लॉकडाउन में खुद को एक्सरसाइज के लिए ऐसे करें प्रोत्साहित

लॉकडाउन की घोषणा के बाद सभी राज्यों में सार्वजनिक समारोह, कार्यालय, दुकानें, यातायात बंद कर दिए गए। ऐसी स्थिति में रिश्तेदारों, दोस्तों और सहकर्मियों के साथ मेल-जोल ना के बराबर हो गया है। यहां तक ​​कि बार ,रेस्तरां, मॉल, कॉलेज और पूजा स्थलों पर भी जाना प्रतिबंधित है। इस दौरान घर से बाहर सिर्फ वही निकल पा रहे हैं जो आवश्यक सेवाओं से जुड़े हैं और सामाजिक आवश्यकताओं की पूर्ति के लिए लगातार अथक प्रयास कर रहे हैं। लगभग दो महीने घर में बंद रहते हुए खुद को शारीरिक और मानसिक तौर पर फिट रख पाना लोगों के लिए बड़ी चुनौती साबित हो रहा है। वहीं जो लोग नियमित रूप से जिम, रनिंग जैसे अभ्यास करते थे उनके लिए इस लॉकडाउन ने मुश्किलें और बढ़ा दी हैं।

ये रही परेशानियों की बात, अब समाधान की ओर देखते हैं। लॉकडाउन कब खत्म होगा और हमारी जिंदगी कब तक सामान्य होती है, यह कोविड के मामलों में कमी पर निर्भर करता है। लिहाजा हमारे लिए ऐसी दिनचर्या का पालन करना आवश्यक हो गया है जो हमें शारीरिक और मानसिक, दोनों तरह से फिट रखें। जो लोग ‘वर्क फ्रॉम होम’ के दौरान घर में लंबे समय तक बैठकर काम कर रहे हैं उनके लिए अपने स्वास्थ्य को बेहतर बनाए रखना और भी आवश्यक हो जाता है।

इस लेख में हम आपको बताएंगे कि इस लॉकडाउन के दौरान आपको अपनी दिनचर्या कैसी रखनी चाहिए, जिससे आप व्यायाम कर स्वयं को शारीरिक और मानसिक रूप से फिट रख सकें। साथ ही हम आपको यह भी बताएंगे कि आप व्यायाम के लिए इस वक्त खुद को उत्साहित करने के लिए किन-किन उपायों को प्रयोग में ला सकते हैं?

लॉकडाउन के दौरान व्यायाम की बनाएं रूपरेखा –
घर पर रहते हुए वक्त बे-वक्त व्यायामों को करना अलग बात है। लेकिन ज्यादा जरूरी होता है इन्हें नियमित रूप से पालन में लाना। यहां आप एक समय सारिणी तैयार कर सकते हैं, जिनमें घर के अन्य कामों के साथ व्यायाम और शारीरिक अभ्यासों के लिए समय निर्धारित कर लें। इससे आपको नियमित रूप से व्यायाम करने में आसानी होगी। आइए जानते हैं इसके लिए आपको क्या करने की आवश्यकता है?

समय सारिणी बनाएं : लगातार घर पर रहने का असर आपके शरीर और दिमाग दोनों पर पड़ सकता है। ऐसे में आप एक व्यवस्थित समय सारिणी बना लें और उसी के आधार पर सभी कामों को करें। दिनचर्या को इस प्रकार से संयोजित करें, जिसमें आपके घर के कामों के साथ शारीरिक गतिविधियां और मनोरंजन भी शामिल हों। लॉकडाउन के इस वक्त में यह आपके लिए काफी मददगार हो सकता है।

लक्ष्य निर्धारित करें : जिम या फिटनेस सेंटर में जाने से पहले आप एक लक्ष्य निर्धारित करते हैं। आप यह सोचते हैं कि जिम में आपको वज़न कम करने वाले व्यायाम करने हैं या बढ़ाने वाले या फिर वेट ट्रेनिंग करके अपनी मांसपेशियों को मजबूत बनाना है। घर पर भी व्यायाम शुरू करने से पहले ऐसे ही लक्ष्य निर्धारित कर लें। आप वेट स्केल, फिटनेस ऐप आदि के ​माध्यम से अपनी प्रगति पर नजर भी बनाए रख सकते हैं।

समय का चयन करें : व्यायाम के लिए नियमित होना बहुत जरूरी होता है। सुबह या शाम जब भी आप व्यायाम करना चाहें, अपनी सुविधानुसार एक वक्त निर्धारित कर लें। इसी समय पर रोज अभ्यास करें। आप दिन में सिर्फ एक घंटे व्यायाम करके सर्वोत्तम परिणामों की इच्छा नहीं कर सकते हैं। इसके लिए अधिक से अधिक समय दें। व्यायाम के सही तरीके का पालन करना भी आवश्यक होता है।

व्यायाम के लिए जगह निर्धारित करें : व्यायाम के लिए एक जगह का चयन कर लें। यह आपका लिविंग रूम, बेडरूम, बालकनी या छत भी हो सकता है। सुबह अभ्यास करने के लिए पिछली रात को ही उस स्थान की साफ-सफाई आदि कर लें। इससे जब आप सुबह व्यायाम के लिए जाएंगे तो आप पर सामानों का हटाने आदि का कोई बोझ नहीं रहेगा। इससे व्यायाम में अधिक से अधिक समय दे पाएंगे।

वर्चुअल टीमवर्क : इस वक्त आप अपने उन दोस्तों और सहकर्मियों से नहीं मिल पा रहे होंगे जो आपके साथ जिम में होते थे। ऐसे में आप उनके साथ आभासी तौर पर व्यायाम कर सकते हैं। इसके लिए आप सभी एक वर्कआउट का चयन कर लक्ष्य निर्धारित कर लें। स्मार्टफोन पर फिटनेस ऐप का उपयोग करते हुए अपने दूसरे साथियों के साथ वर्कआउट की तुलना करें। यह आपको और अच्छा करने के लिए प्रेरित करेगा।

काम नहीं आनंद के रूप में लें : व्यायाम को एक काम नहीं आनंद के रूप में करें। व्यायाम से आप खुशी और सकारात्मकता का अनुभव कर सकते हैं। व्यायाम को जितने आनंद और उत्साह के साथ किया जाता है उसका प्रभाव उतना ही बेहतर होता है। तल्लीनता के साथ वर्कआउट कीजिए। व्यायाम के कारण बनने वाले हार्मोन आपको सकारात्मता और आनंद का एहसास देते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »