देश में कोरोना वायरस संक्रमित मामलों का आंकड़ा 1200 से हुआ पार

पूरी दुनिया न दिखाई देने वाले एक दुश्मन से जंग लड़ रही है. पॉलिसीमेकर्स और रिसर्चर्स दिन रात कोरोना वायरस के फैलाव और असर का अनुमान लगाने के लिए समाधानों की तलाश कर रहे है. अभी तक नोवेल कोरोना वायरस उनके प्रयासों से कहीं तेज़ साबित हुआ है जिसकी वजह से उस पर नियंत्रण रख पाना मुश्किल हो रहा है.

कोरोना वायरस के संकट को देखते हुए भारत में 21 दिनों के लॉकडाउन के कारण हजारों मजदूर और गरीबों का पलायन देखने को मिला. लॉकडाउन के बीच दिहाड़ी मजदूरों का सैलाब सड़कों पर उतर आया. इसी बीच भारतीय फुटबॉल के पूर्व कप्तान बाईचुंग भूटिया ने प्रवासी मजदूरों को छत देने ऐलान किया है.

कोरोना वायरस से लड़ाई की मुहिम के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी संवाद के जरिए जागरूकता अभियान को गति दे रहे हैं। आज पीएम मोदी ने सामाजिक कल्याण संस्थाओं से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बातचीत कर उनके योगदान को जमकर सराहा।

पीएमओ ने बताया कि इनसे बातचीत के दौरान पीएम कहा ने कहा कि पूरा देश कोरोना वायरस से लड़ाई में जबरदस्त धैर्य, लचीलापन और साहस दिखा रहा है। महात्मा गांधी के इस कथन को दोहराया कि गरीबों की सेवा करना ही सच्ची राष्ट्र सेवा है। उन्होंने मानवता की सेवा में लगे विभिन्न संस्थाओं की खूब प्रशंसा की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »