इन कारणों की वजह से Hollywood से पीछे है Bollywood

हॉलीवुड से पीछे बॉलीवुड

इंडियन फिल्म इंडस्ट्री एक साल में 1500 से अधिक फिल्में बनाने के बाद भी सालाना आय तक़रीबन 2.1 अरब डॉलर ही है. जबकि कनाडा और अमेरिका में प्रतिवर्ष 700 फिल्में ही बनती है लेकिन वह भारत की अपेक्षा अधिक कारोबार करती है.

हॉलीवुड की सालाना कमाई

रिपोर्ट्स के अनुसार हॉलीवुड फिल्म इंडस्ट्री सालाना आय करीब 11 अरब डालर है, जो भारतीय फिल्म इंडस्ट्री के मुकाबले कही ज्यादा है.

करना पड़ता है चुनौतियों का सामना

भारतीय फिल्म इंडस्ट्री को कई तरह की चुनौतियों का सामना करना पड़ता है, जिसमे अप्रूवल, सर्टिफिकेशन और लाइसेंस की प्रक्रिया अत्यधिक महत्वपूर्ण होती है. जब कोई निर्माता फिल्म का निर्माण करता है तो उसे फिल्म बनाने के लिए करीब 70 तरह के अप्रूवल और लाइसेंस की प्रक्रिया के साथ 30 अथॉरिटीज से भी गुजरना पड़ता है.

भारत में स्क्रीन्स

भारत में करीब 96,300 नागरिकों पर एक स्क्रीन है.

यूएस में स्क्रीन्स

एक स्क्रीन पर यूएस में 7,800 नागरिक हैं.

चीन में स्क्रीन्स

45,000 नागरिकों पर चीन में एक स्क्रीन है.

फिल्म देखने से रह जाते है वंचित

कम स्क्रीन्स होने के चलते कई व्यक्ति थिएटर में फिल्म देखने से वंचित रह जाते हैं.

सिंगल स्क्रीन्स की अधिक्ता

13 हजार स्क्रीन्स में देश के 10 हजार स्क्रीन्स तो सिंगल स्क्रीन्स ही हैं, जिसके कारण फिल्म के टिकट काफी कम दाम के होते हैं. जो फिल्म इंडस्ट्री को घाटे में डालता है.

टैक्स

भारतीय फिल्म इंडस्ट्री का हॉलीवुड से पीछे रहने का एक कारण भारत में फिल्मों पर अधिक टैक्स भी है. जिसके चलते कई बार हम निर्देशक को टैक्स फ्री फिल्म करने के लिए राज्यों से गुजारिश करते हुए देखते है. फिल्म निर्माता को अपनी एक फिल्म के लिए बहुत ज्यादा एंटरटेनमेंट टैक्स सरकार को देना पड़ता है.

फिल्म पाइरेसी

फिल्म पाइरेसी भी भारतीय फिल्म इंडस्ट्री के पीछे हॉलीवुड से पीछे रहने का मुख्य कारण है. हमारे यहाँ फिल्मों की पाइरेसी भी अधिक होती है.

दोस्तों यह पोस्ट आपको कैसी लगी हमें कमेंट करके जरूर बताएं और अगर यह पोस्ट आपको पसंद आई हो तो इसे ज्यादा से ज्यादा शेयर लाइक करना ना भूलें और अगर आप हमारे चैनल पर नए हैं तो आप हमारे चैनल को फॉलो कर सकते हैं ताकि ऐसी खबरें आप रोजाना पा सके धन्यवाद।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Ads by Eonads
Translate »