होली के बाद केजरीवाल सरकार पेश करेगी दिल्ली का बजट, जानिए क्या कर सकते है बदलाव

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को अपने मंत्रियों के विभागों का बंटवारा कर दिया. मुख्यमंत्री ने इस बार भी अपने पास कोई मंत्रालय नहीं रखा है. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल समेत सभी मंत्रियों ने सोमवार को दिल्ली सचिवालय पहुंचकर अपने-अपने दफ्तर में काम करना शुरू दिया. पिछली सरकार में उपमुख्यमंत्री रहे मनीष सिसोदिया इस सरकार में भी उपमुख्यमंत्री बने रहेंगे. मनीष सिसोदिया को पिछली बार की तरह इस बार भी वित्त एवं शिक्षा मंत्रालय सौंपे गए हैं.

उपमुख्यमंत्री और वित्त मंत्री मनीष सिसोदिया ने सोमवार को कहा कि आप सरकार होली के बाद दिल्ली का 2020-21 का बजट पेश करेगी । पद संभालने के एक दिन बाद उन्होंने कई बैठकें करते हुए बजट बनाने की प्रक्रिया की शुरुआत की। इस साल होली 10 मार्च को है।

उन्होंने संवाददाताओं से कहा, ”बजट बनाने की कवायद दिसंबर से ही शुरू हो जाती है लेकिन दिल्ली विधानसभा चुनाव के कारण हम ऐसा नहीं कर पाए। अगले 20-25 दिनों में हम बजट तैयार करने के लिए कठिन मेहनत करेंगे और होली के बाद इसे पेश करेंगे। ”

पिछली बार मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के पास रहा दिल्ली जल बोर्ड का जिम्मा इस बार सत्येंद्र जैन को सौंप दिया गया है. जल बोर्ड के अलावा सत्येंद्र जैन के पास पिछली बार की तरह स्वास्थ्य मंत्रालय भी रहेगा.

सिसोदिया ने विभाग के अधिकारियों से मुलाकात की और उनसे एक प्रस्ताव का खाका तैयार करने को कहा जिससे कक्षा बारहवीं में 60 प्रतिशत अंक लाने वाले छात्रों का कॉलेजों में दाखिला सुनिश्चित हो।

वित्त और शिक्षा के अलावा उनके पास पर्यटन, कला, संस्कृति और भाषाएं, सतर्कता और सेवा विभाग की भी जिम्मेदारी है। नव गठित आप सरकार में शिक्षा विभाग की जिम्मेदारी संभाल रहे सिसोदिया ने विभाग के अधिकारियों से मुलाकात की

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »