विराट कोहली द्वारा की गई 5 बड़ी गलतियां

दोस्तों विराट कोहली की पहचान एक सफल बल्लेबाज की के साथ-साथ एक सफल कप्तान के रूप में भी होती है लेकिन दोस्तों विराट कोहली ने अपनी कप्तानी के दौरान कई ऐसे खराब फैसले लिए हैं जिसका खामियाजा भारतीय टीम को बाद में भुगतना पड़ा और उन गलतियों ने अनेक भारतीय फैंस की उम्मीद को तोड़ा है तो आज हम विराट कोहली के द्वारा की गई सबसे बड़ी पांच गलतियों के बारे में आपको बताने वाले हैं।

चैंपियन ट्रॉफी 2017 के फाइनल मैच में टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करना विराट कोहली का सबसे खराब फैसला था क्योंकि दोस्तों क्रिकेट एक्सपर्ट का मानना है कि ऐसे बड़े मैचों में पहले बल्लेबाजी करना ही उचित रहता है लेकिन विराट कोहली ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का निर्णय लिया जिसका खामियाजा टीम को हार कर चुकाना पड़ा और इसी का फायदा पाकिस्तान की टीम ने उठाकर कुल 338 रनों का लक्ष्य खड़ा कर दिया और भारत की टीम 159 के रन पर ऑल आउट हो गई।
दोस्तों युवराज सिंह के जाने के बाद विराट कोहली आज तक नंबर 4 के लिए कोई एक सही बल्लेबाज नहीं ढूंढ पाए विराट कोहली लगातार इस नंबर पर अनेक बल्लेबाजों को खिलाते रहते हैं जिस कारण उन्हें नंबर 4 के लिए एक भी बल्लेबाज अभी तक नहीं मिल पाया अगर दोस्तों विराट कोहली किसी एक बल्लेबाज को लगातार नंबर चार पर खेलने के लिए मौका देते हैं तो वह उस नंबर के लिए सही साबित हो सकता है लेकिन विराट कोहली ने आज तक ऐसा नहीं किया और इसी कारण वर्ल्ड कप में भी टीम इंडिया को हार मिली थी क्योंकि नंबर चार कोई ऐसा बल्लेबाज नहीं था जो आगे पारी को संभाल सके।
दोस्तों विराट कोहली अपने टीम चयन में बड़ी गलतियां करते हैं विराट कोहली ने ऐसी बहुत सारी गलतियां की है जब उन्होंने किसी फॉर्म में चल रहे खिलाड़ी को नहीं खिलाया तथा फॉर्म मैं नहीं चल रही खिलाड़ी को मौका देना उनकी सबसे बड़ी गलती रही है ऐसा ही दोस्तों उन्होंने वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में किया था उस मैच में उन्होंने फॉर्म में चल रहे मोहम्मद शमी की जगह अनफॉर्म बल्लेबाज भुनेश्वर कुमार को खिलाया था।
दोस्तों टीम इंडिया का वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में आने का सबसे बड़ा कारण महेंद्र सिंह धोनी को नंबर 7 पर खेलने के लिए भेजना था , अगर दोस्तों विराट कोहली महेंद्र सिंह धोनी को नंबर चार या पांच पर बेल भेज देते तो शायद वह पारी को संभाल सकते थे और इस मैच में भारत को जीत भी मिल सकती थी लेकिन दोस्तों उन्होंने ऐसा नहीं किया जिसका खामियाजा टीम को वर्ल्ड कप हार कर चुकाना पड़ा।
दोस्तों विराट कोहली का मानना है कि टी-20 में ऑल राउंडर सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण होते हैं जो रन भी बना सकते हैं और गेंदबाजी भी कर सकते हैं लेकिन दोस्तों को है उनकी सबसे बड़ी गलती है क्योंकि एक ऑलराउंडर न हीं तो एक मुख्य गेंदबाज की तरह गेंदबाजी कर सकता है और ना ही एक मुख्य बल्लेबाज की तरह बल्लेबाजी कर सकता है।

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
Translate »
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x