हर महीने 25000 की कमाई होगी, 2.5 लाख में प्रारम्भ करें ये व्यवसाय

हम आपको एक ऐसे व्यवसाय के बारे में बता रहे हैं जिसे हर आदमी कर सकता है, धुप अगरबत्ती का व्यवसाय। जी हां धूप अगरबती का बिज़नेस कम पैसों में प्रारम्भ हो जाता है। इसलिए कोई भी आम आदमी जो बिज़नेस प्रारम्भ करने का मन बना रहा हो व उसे आईडिया नहीं हो कि वे किस वस्तु का बिज़नेस करें तो वे ये व्यवसाय प्रारम्भ कर सकते हैं।

 हिंदुस्तान में अगरबत्ती बनाने की मशीन की कीमत 35000 रुपए से 175000 रुपए तक है। इस मशीन से आप 1 मिनट में 150 से 200 अगरबत्ती तक बना सकते हैं। आइए आपको बताते हैं कि अगरबती का बिज़नेस आप कैसे प्रारम्भ कर सकते हैं और इसको करने से आपको कितना फायदा होगा।

 अगरबत्ती बनाने की मशीन

 अगरबत्ती बनाने में कई तरह की मशीनों कार्य में लाई जाती हैं। इनमें मिक्सचर मशीन, ड्रायर मशीन व मेन प्रोडक्शन मशीन शामिल है। मिक्सचर मशीन कच्चे माल का पेस्ट बनाने के कार्य आता है व मेन प्रोडक्शन मशीन पेस्ट को बांस पर लपेटने का कार्य करता है। अगरबत्ती बनाने के मशीन सेमी व पूरी अटारी भी होती है। मशीन का चुनाव करने के बाद इंस्टॉलेशन के बजट के हिसाब से मशीनों के सौदे से डील करें व इंस्टॉलेशन करवाएं। मशीनों पर कार्य करने की प्रशिक्षण लेना भी आवश्यक है।

 अगरबत्ती बनाने की मशीन की कीमत

 हिंदुस्तान में अगरबत्ती बनाने की मशीन की कीमत 35000 रुपए से 175000 रुपए तक है। कम कीमत वाली मशीन में प्रोडक्शन कम होता है और आपको इससे ज्यादा मुनाफा नहीं होगा। मेरा ये सुझाव है की आप अगरबत्ती बनाने वाली आटोमेटिक मशीन से कार्य चालू करें क्यूंकि ये बहुत तेजी से अगरबत्ती बन जाती है।] औटोमेटिक मशीन की कीमत 90000 से 175000 रुपए तक है। एक आटोमेटिक मशीन एक दिन में 100 किग्रा अगरबत्ती बन जाती है।

 अगरबत्ती कच्चे माल की उपलाई

 मशीन इंस्टॉलेशन के बाद कच्चे माल की सप्लाई के लिए बाजार के अच्छे घाटों से संपर्क करें। अच्छे लिंगों की लिस्ट निकालने के लिए आप किसी अगरबत्ती उद्योग में पहले से व्यवसाय करने वाले लोगों से सहायता ले सकते हैं। अनिश्चित माल हमेशा आवश्यकता से थोड़ा बहुत मंगाए क्योंकि इसका कुछ हिस्सा वेस्टेज में भी जाता है।

 अगरबत्ती बनाने के लिए सामग्री

 अगरबत्ती बनाने के लिए सामग्री में गम पाउडर, चारकोल पाउडर, बांस, नर्गिस पाउडर, खुशबूदार तेल, पानी, सेंट, फूलों की पंखुड़ियां, चंदन की लड़की, जेलेटिन पेपर, शॉ डस्ट, पाउडर मटील आदि शामिल हैं।

 वी। वी.आर.

 आपका उत्पाद आपके डिजाइनर प्रिंटर पर बिकता है। प्रिंटिंग के लिए किसी। एक्सपर्ट से सलाह लें व अपनी फ़ॉन्ट को सुंदर बनाएं। लोगों के धार्मिक नैतिकता को छूने की कोशिश करें। अगरब अधिकारियों की मार्केटिंग करने के लिए अखबारों, टीवी में एड दे सकते हैं। इसके अतिरिक्त यदि आपका बजट अनुमति देता है तो कंपनी की औनलाइन वेबसाइट बनाएं और अपने विभिन्न उत्पादों की मार्केटिंग करें।

 अगरबत्ती बनाने में लगने वाला समय

 अगरबत्ती के निर्माण का समय आपके द्वारा प्रयोग की गयी मशीन के अनुसार अलग होने कि सम्भावना है जैसे की अगर आप नेवाटिक मशीन का प्रयोग कर रहे है तो आप 1 मिनट में 150 से 200 अगरबत्ती तक का निर्माण कर सकते है। यदि आप हाथों से इसका निर्माण कर रहे है या करा रहे है तो इसमें लगने वाला समय आपके या कर्मचारी के काम करने की क्षमता पर निर्भर करता है।

 अगरबत्ती व्यवसाय को प्रारम्भ करने में लगने वाली कुल लागत

 इस व्यवसाय को आप 13,000 रुपये की लागत के साथ घरेलु तौर पर भी हाथों से निर्माण कर प्रारम्भ कर सकते हैं, लेकिन अगर आप अगरबत्ती के व्यवसाय को मशीन बैठाकर प्रारम्भ करने की सोच रहे हैं तो इसको प्रारम्भ करने में लगभग 5 लाख डॉलर तक की लागत आएगी। हो सकता है। अगरबत्ती को बनाने में लगने वाली कच्ची भाषा उसकी मात्रा व उसके बाजार मूल्य को नीचे परिष्कृत किया गया है जिसे आवश्यकता के अनुसार आप इसकी मात्रा को आठ या बढ़ा कर अपने व्यवसाय को आगे बढ़ा सकते हैं: चारकोल डस्ट 1 किलो ग्राम 13 रुपये, जिलेट पाउडर 1 किलो ग्राम 60 रुपये, सफ़ेद चिप्स पाउडर 1 किलो ग्राम 22 रुपये, चंदन पाउडर 1 किलो ग्राम 35 रुपये, बांस स्टिक 1 किलो ग्राम 116 रुपये, ऑनफ्यूम 1 पीस 400 रुपये, डीईपी 1 लीटर 135 रुपये, पेपर बॉक्स 1 दर्जन 75 रुपये, रैपिंग पेपर 1 पैक 35 रुपये व कुप्पम डस्ट 1 किलो ग्राम 85 रुपये है।

 क्या होगा

 अगर आप 30 लाख का सालाना बिज़नेस करते हैं तो 10% फायदे के साथ आप 3 लाख रुपये कमा सकते हैं। यानी आप हर महीने 25 हजार रुपये की कमाई कर सकते हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »