106 यात्री से भरी पूरी ट्रैन सन 1840 में गायब हुई, लेकिन सन 1911 में पायी गयी जानिए रहस्य

ट्रैन से सफर करना किसे पसंद नहीं वो भी विंडो वाली सीट मिल जाये तो क्या कहने , लेकिन जरा सोचिये अगर पूरी की पूरी ट्रैन गायब हो जाये और ट्रैन गायब हो आज और मिली हो 71 साल पहले , चौकिये मत बताता हु पूरा रहस्य क्या है …

आप में से कई सारे लोगो ने इसके बारे में कही ना कही या तो पढ़ा होगा या सुना होगा जब पूरी की पूरी ट्रैन अपनी यात्रा के दौरान गायब हो गयी , मै बात कर रहा हु रोमन ट्रैन की , सन 1911 रोमन रेलवे की एक ट्रैन 106 अपने यात्री के साथ अपने सफर में निकलती है और अपने रास्ते में इसे 1 किलोमीटर लम्बे टनल से गुजरना था जो की एक काफी बड़े पहाड़ के बीच में से निकलती थी

तब तक ट्रैन में बैठे लोग अनजान थे उनके साथ कुछ बुरा होने वाला है , जैसे ही ट्रैन टनल के पास पहुंची ट्रैन का टेम्प्रेचर और बाहर का टेम्प्रेचर पूरी तरह बदल गया सब कुछ बिलकुल सांत हो गया तभी दो यात्री ये सब देख के घबरा गए और ट्रैन से कूद गए ,

जैसे ही ट्रैन टनल में गयी और वो पूरी तरह से गायब हो गयी , उसके पास इस ट्रैन को किसी ने भी नहीं देखा , और ये सारी कहानी उन दो यात्री ने सबको बताई जो ट्रैन से कूदे थे ! उन्होंने जांच करने वाली टीम को बताया टनल से पहले सब कुछ सांत हो गया चारो तरह सफ़ेद धुँआ धुँआ हो गया था इसलिए वो ट्रैन से कूद गए थे , जब जांच टीम टनल में गयी तो उनके हाथ कोई सुराग नहीं लगा !

इस घटना के बाद डर के कारन उस टनल को बंद करवा दिया गया !

चलिए अब आपके दिमाग को थोड़ा और भनाते है , अब बात करते है सन 1840 की जब एक सायकेट्रिस्ट ने बताया की उनके पास 104 लोगो का इलाज चल रहा जो पागलपन के शिकार है वो 104 लोग कह रहे है की वो ट्रैन से जरिये रोम से मेक्सिको आये है जब की तभी ना कोई ऐसी ट्रैन थी ना कोई रेल लाइन !

कुछ लोग तर्क देते है की ट्रैन जब टनल से होकर गुजर रही थी वो टाइमलूप में फस गयी और टाइम से पीछे चली गयी, इस घटना को सबसे रहसयमयी घटना कहा जाता है !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »