हर साल किसानों को मिलते हैं 6,000 रुपये, वो भी फ्री जानिए कैसे

यदि आप खेती-किसानी का कार्य करते हैं तो आपने पीएम किसान सम्मान निधि यानी पीएम किसान योजना का नाम ही सुना होगा। इस स्कीम के तहत केंद्र सरकार देश के किसानों को हर साल 6,000 रुपये की नकद सहायता उपलब्ध कराती है। सरकार तीन बराबर किस्तों में यह सहायता राशि किसानों को देती है। इसका मतलब है कि हर किस्त में सरकार इस योजना के तहत दर्जनों किसानों के खाते में 2,000 रुपये भेजती है। कोविद -19 से उभरे संकट काल में सरकार इस वर्ष अप्रैल में किसानों को चालू वित्त वर्ष की पहली किस्त उपलब्ध करा चुकी है। हालांकि, अब भी बहुत से किसान इस योजना का लाभ इसलिए नहीं प्राप्त कर पा रहे हैं क्योंकि वे इस स्कीम के तहत दर्ज़ नहीं हैं। ऐसे में पात्र किसानों को चाहिए कि जल्द-से-जल्द खुद को इस स्कीम के तहत दर्ज़े लें क्योंकि सरकार किसी भी समय चालू वित्त वर्ष की दूसरी किस्त जारी करने की घोषणा कर सकती है।

 पंजीकरण कैसे कर सकते हैं

 पीएम किसान स्कीम के लिए पंजीकरण बहुत सरल है। पात्र किसान गांवों के पटवारी, राजस्व अधिकारी या किसी भी नामित अधिकारी या एजेंसी के माध्यम से इस स्कीम के लिए अपलाई कर सकते हैं। आप चाहें तो पास कॉमन सर्विस सेंटर या पीएम किसान की वेबसाइट से खुद भी इस स्कीम के लिए अपना पंजीकरण फॉर्म भर सकते हैं।

 ऑफ़लाइन पंजीकरण की प्रक्रिया

 1. औनलाइन पंजीकरण के लिए आपको सबसे पहले पीएम किसान की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।

 2. वेबसाइट के दाहिने साइड में आपको ‘किसान कॉइन’ अनलाइन है।

 3. अब आपको ‘नया किसान पंजीकरण’ ‘नीलामी’।

 4. ‘नया फॉर्मर पंजीकरण’ पर क्लिक करने पर आपके सामने एक नया पेज ओपनगा।

 5. नए पेज पर आपको नंबर नंबर और कैप्चा कोड डालने के बाद ‘जारी रखने के लिए यहां क्लिक करें’ पर क्लिक करना होगा।

 6. अब आपको नियमित फ़ॉर्मर व अर्बन फॉर्मर में से उचित विकल्प का चुनाव करना होगा।

 7. उचित विकल्प के चुनावों के साथ नया पेज ओपनगा।

 8. नए पेज पर राज्य, जिला, उप-जिला, प्रखंड और गांव के नाम को ड्रॉप डाउन लिस्ट से चुनना होगा।

 9. इसके बाद मांगे चले गए को भरकर आप अपना फॉर्म पूरा भर सकते हैं।

 यह आवश्यक जानकारी है:

 पीएम किसान पंजीकरण के लिए आपको किसान का नाम, लिंग, वर्ग, किसान का प्रकार, बैंक नंबर, आईएफएससी कोड, मोबाइल नंबर, जन्म की तिथि, पिता का नाम और जमीन से जुड़े विवरण भरने हैं। एक बार पंजीकरण का फॉर्म भरने के बाद आप समय-समय पर अपने आवेदन की स्थिति भी इसी पोर्टल के माध्यम से चेक कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »