शुरू करना चाहते हैं छोटा-मोटा काम ?इस तरीके से लीजिये शिशु मुद्रा लोन

अगर आपके पास पैसे नहीं हैं या फिर कम लगत में कोई छोटा सा काम या फिर बिज़नेस शुरू करना चाहतें हैं तो आप शिशु मुद्रा लोन के लिए अप्लाई कर सकतें हैं। अब बात करतें हैं कि क्या हैं शिशु मुद्रा लोन, इसको लेने से आपको क्या फायदा होगा और 2 प्रतिसत में कैसे मददगार साबित होगा।

क्या है शिशु मुद्रा लोन ?

शिशु मुद्रा लोन के अंतर्गत आप 50 हज़ार तक का लोन ले सकतें हैं। यह उन लोगो के लिए जो अपना छोटा सा व्यापर या कारोबार शुरू करना चाहतें हैं। शिशु मुद्रा लोन प्रधान मंत्री मुद्रा योजना के स्कीम का एक हिस्सा है जिसमे सबसे पहला चरण शिशु लोन है फिर तरुण लोन उसके बाद किशोर लोन आता है।

किसको मिल सकता है यह लोन ?

यह लोन लोगो के लिए हैं जिनको छोटे स्तर पर काम करना हैं जैसे अगर कोई व्यक्ति दूकान खोलना चाहता है या फिर छोटा सा स्टार्टअप करना चाहता हैं तो वह लोन के लिए इस स्कीम का फायदा ले सकता है।

शिशु मुद्रा लोन के लिए अप्लाई कैसे करें ?

शिशु मुद्रा लोन को अप्लाई करने के लिए आप बैंक से संपर्क कर सकते हैं जहां आपका खता हैं इसके अलावा भी अन्य विकल्प हैं जैसे कमर्शियल बैंक ,क्षेत्रीय बैंक ,स्माल फाइनेंस बैंक ,MFI और NBFC यहां पर आप लोन के लिए आवेदन कर सकतें हैं इसके साथ आप UDYAMIMITRA पर जाकर ऑनलाइन निवेदन भी कर सकतें हैं। इस लोन के लिए आपको किसी भी गारंटर कि ज़रूरत नहीं हैं क्न्योकि केंद्रीय सरकार खुद इसमें गारंटर बानी हुई है और इसकी शुरुवात 8 अप्रैल 2015 को हुई थी।

ब्याज कितना लगेगा ?

इस लोन में सरकर ने 2 प्रतिसत की रहत दी है ,3 करोड़ लोग 12 महीने तक इस लोन का फायदा उठा सकतें है इस अवधि में लोन लेने वालों के 1500 करोड़ का ब्याज सरकार देगी। आम तौर पर बैंक अलग अलग लोन पर अलग अलग ब्याज लेते है यह ब्याज 9 से 12 प्रतिसत के बीच हो सकता हैं और यह देखा जाता हैं की जिस काम के लिए लोन लिया जा रहा हैं उसमे कितना रिस्क हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »