ये है आई पी एल के सबसे खराब विवाद

10 कोहली अनुष्का मामला

आईपीअल 2015 में रॉयल चैलेंजर्स और दिल्ली डेयर डेविल्स का मैच वर्षा की वजह से कुछ देर के लिए रुक गया था आरसीबी के कप्तान विराट कोहली को फिल्म अभिनेत्री अनुष्का शर्मा (अब विराट की पत्नी) से बात चीत करते हुए देखा गया इस वजह से विवाद उत्पन्न हो गया क्योंकि क्रिकेट के नियमानुसार कोई भी खिलाडी मैच ख़त्म होने तक किसी भी बाहरी वयक्ति से नहीं मिल सकता उसको खिलाड़ियों के लिए तय स्थान में ही रहना होता है विराट कोहली ने इसका ध्यान नहीं रखा और वीआईपी बॉक्स में अनुष्का से बात करने चले गए इसके लिए बीसीसीआई ने विराट से सफाई मांगी और बाद मामूली गलती मान कोई जुर्माना नहीं लगाया गया

9 रविंदर जडेजा पर बैन

राजस्थान रॉयल से अपने करियर की शुरुआत करने वाले रविंदर जडेजा पर 2010 में एक सीजन के लिए प्रतिबन्ध लगा दिया था क्योंकि उन्होंने अपनी टीम के साथ हुए करार का उलंघन किया था और अंदर ही अंदर मुंबई इंडियन में शामिल होने के लिए कोशिश की थी जब इस बात का पता बीसीसीआई को चला तो उन्होंने रविंदर जडेजा पर एक साल का प्रतिबन्ध लगा दिया था

8 राहुल शर्मा और वायने पर्नेल की रेव पार्टी की घटना

आईपीएल 2012 में पुणे वर्रिएर के लिए खेलने वाले राहुल शर्मा और साउथ अफ्रीका के वायने पर्नेल को मुंबई पुलिस ने नशीली दवाओं की पार्टी से गिरफ्तार किया था जहा उनपर नशीली दवा लेने के आरोप लगे पर दोनों खिलाड़ियों ने इससे इंकार कर दिया पर मेडिकल रिपोर्ट्स ने उनके रेक्रीशनल ड्रग लेने की पुष्टि की यह मामला अदालत तक गया और दोनों खिलाड़ियों को जमानत मिल गयी

7 श्रीलंका के खिलाड़ियों का चेन्नई में प्रतिबन्ध

यह सर्वविदित है कि भारतीय राजनीति और क्रिकेट का गहरा सम्बन्ध है वैसे ही श्रीलंका की सरकार ने अपने खिलाड़ियों को चेन्नई में मैच नहीं खेलने की सलाह दी क्योंकि श्रीलंका में रहने वाले तमिल लोगो के कारण श्रीलंकाई लोगो की भावनाओ को ठेस लगी थी विरोध और सुरक्षा के कारण बीसीसीआई ने भी एलान किया कि कोई भी श्रीलंकाई खिलाडी चेन्नई के मैचों में हिस्सा नहीं लेंगे

6 कोच्ची टस्कर कि समाप्ति

2011 में कोच्ची टस्कर ने अपनी शुरुआत की थी एक ही सीजन खेलने के बाद इस पर हमेशा के लिए प्रतिबन्ध लगा दिया गया आईपीएल में हर टीम को हर वर्ष एक बैंक गारंटी देनी होती है और कोची की टीम के मालिक इस निर्देश का पालन नहीं कर पाए साथ ही साथ उस समय भारत सरकार में मंत्री शशि थरूर पर इस टीम की हिस्सेदारी होने का आरोप लगा नियमो के अनुसार कोई भी मंत्री किसी आईपीएल टीम में हिस्सा नहीं खरीद सकता था

5 ललित मोदी की आईपीएल से बर्ख़ास्तिगी

जैसे ही कोच्ची टस्कर को हमेशा के लिए निलंबित कर दिया गया कई नई चीजे सामने आयी जैसे कि आईपीएल के संस्थापक चेयरमैन ललित मोदी के भ्रष्टाचार का लेखाजोखा जिसमे पाया गया कि आईपीएल कि टीमों की नीलामी में अपने दोस्तों और रिस्तेदारो का पक्ष लिया है इसके चलते करोड़ो रूपये की हेराफेरी हुई है इन सब की भनक ललित मोदी को लग गयी थी इसके चलते वो लंदन भाग गए जहा पर उनकी पत्नी रहती है और वह की निवासी है 2010 से लेकर अभी तक ललित मोदी भारत वापिस नहीं आये है

4. वानखेड़े पर शाहरुख़ खान की हाथापाई

केकेआर के सहमालिक और वानखेड़े मैदान के सुरक्षा कर्मियो के बीच हाथापाई एक बड़े विवाद में बदल गयी थी जिसके कारण मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन ने शाहरुख़ खान के वानखेड़े स्टेडियम में प्रवेश पर 5 वर्षो का प्रतिबन्ध लगा दिया था मगर इस बैन को 3 वर्ष बाद हटा लिया गया था

3. महाराष्ट्र में सूखा

2016 में महाराष्ट्र में जबरदस्त सूखे के कारण कई लोगो को अपनी जान गवानी पड़ी थी जहा पर पानी की इतनी कमी हो वह पर क्रिकेट स्टेडियम में 60000 लीटर पानी का इस्तमाल होता है इसको देखते हुए हाई कोर्ट ने आदेश दिया कि क्रिकेट से ज्यादा जरूरी लोगो कि जिंदगी है इसलिए 30 अप्रैल के बाद मुंबई इंडियन और राइजिंग पुणे सुपरजॉइंट को सारे मैच महाराष्ट्र से बाहर खेलने होंगे इसी कारण दोनों टीमों ने अपने बाकि मैच विशाखापत्तनम में खेले

2. श्रीसंत और हरभजन कि लड़ाई

मैदान में कभी कभी बाते लड़ाई तक पहुँच जाती है सामान्यतः यह लड़ाई गालीगलौज तक ही सिमित रहती है मगर कभी किसी ने यह नहीं सोचा होगा कि एक इंडियन खिलाडी दूसरे खिलाडी को थप्पड़ मार सकता है सभी को पता है कि पहले आईपीएल संस्करण में हरभजन ने श्रीसंत को थप्पड़ मार दिया था बाद में दोनों कि आपसी सुलह तो हो गयी मगर हरभजन को पूरे सीजन के लिए बैन कर दिया गया

  1. स्पॉट फिक्सिंग

यह आईपीएल का सबसे चौकाने वाला विवाद है राजस्थान रॉयल के तीन खिलाडी श्रीसंत, अजित चंदीला और अंकित चवन को मैच फिक्सिंग के लिए दोषी पाया गया और उन्हें प्रतियोगिता के बीच में ही जेल जाना पड़ा हालाँकि बाद में उनकी जमानत हो गयी पर बीसीसीआई ने तीनो खिलाड़ियों पर आजीवन प्रतिबन्ध लगा दिया इसमें चेन्नई सुपर किंग्स के मुख्य अधिकारी मय्यपन और राजस्थान रॉयल के मालिक राज कुंद्रा को भी फिक्सिंग में दोषी पाया गया और उनकी टीमों को दो वर्ष के लिए बैन कर दिया गया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »