यूपी में नहीं होंगी विश्वविद्यालय की परीक्षाएं, प्रोन्नत होंगे 48 लाख विद्यार्थी

कोरोना के खतरे को देखते हुए यूपी के विश्वविद्यालयों में परीक्षाएं नहीं होंगी। शासन स्तर पर परीक्षाएं रद्द करने को लेकर सैद्धांतिक सहमति बन गई है। केंद्र की अनलॉक-2 का अध्ययन करने के बाद दो जुलाई को इसकी अधिकारिक घोषणा हो सकती है।

फिलहाल 48 लाख से अधिक विद्यार्थियों के प्रमोशन के फॉर्मूले पर मंथन चल रहा है। दरअसल, राज्य विश्वविद्यालयों में परीक्षाएं शुरु हुई थी कि, लॉकडाउन
हो गया था। अब अनलॉक-1 के दौरान लखनऊ, गोरखपुर सहित अन्य विश्वविद्यालयों में परीक्षा के कार्यक्रम जारी कर दिए गए थे।

इसको लेकर शिक्षक और छात्र दोनों ओर से विरोध के स्वर उठने लगे थे। शनिवार को उच्च शिक्षा विभाग ने मेरठ विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर एके तनेजा की अगुवाई में चार कुलपतियों की कमेटी बनाकर तीन दिन में रिपोर्ट मांगी थी।

कमेटी ने परीक्षाएं रद्द करने की सिफारिश की है। परीक्षार्थियों को अंतिम परीक्षा के बेस्ट या औसत के आधार पर अंक दिए जाएं, इस पर आगे फैसला होगा।

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
Translate »
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x