मुलेठी में कौनसे औषधीय गुण होते हैं? जानिए

मुलेठी की तासीर ठंडी और यह खाने में मीठी होती है। औषधीय गुणों सें भरपूर मुलेठी कैल्शियम, ग्लिसराइजिकऐसिड, ऐंटीऑक्सिडेंट, ऐंटीबायॉटिक, प्रोटीन और वसा के गुणों से भरपूर होती है।

आओ जानते हैं इसके औषधीय गुणों के बारे:-

मासिक धर्म के दौरान होने वाले अधिक रक्तस्त्राव में एक चम्मच मुलेठी का चूर्ण, आधा चम्मच पिसी हुई मिश्री पानी में मिलाकर सेवन करने से पीरियड्स में होने वाले दर्द और अधिक रक्तत्राव से राहत मिलती है।

मुलहठी के कुछ दिन लेने से इससे महिला के दूध उत्पादन में वृद्धि होती है और बच्चे के लिए पर्याप्त मां का दूध भी मिल जाता है

5 ग्राम मुलेठी चूर्ण, घी और शहद में मिलाकर चाटने से और ऊपर से मिश्री मिले गर्म-गर्म दूध को पीने से नपुंसकता का रोग कुछ ही दिनों में खत्म हो जाता है।

मुलेठी के रोजाना सेवन से दिल संबंधी बीमरियों को दूर किया जा सकता है। इसके लिए आप 3 ग्राम मुलेठी का चूर्ण और 3 ग्राम मिश्री लें और इसे एक गिलास पानी में घोलकर कुछ महीने इसका सेवन करें।

मुलेठी का चूर्ण शहद के साथ सेवन करने से शुक्र वृद्धि और बाजीकरण होता है।

अगर शरीर में खून की कमी है तो 4 ग्राम मुलेठी के चूर्ण का कुछ दिन सेवन करना चाहिए। इससे रक्त में बढ़ोतरी होती है।

आधा चम्मच मुलेठी के चूर्ण में एक चम्मच चीनी डालकर रात को दूध के साथ खाने से कब्ज की समस्या में लाभ होता है और शरीर में एक नई ताकत आती है।

खांसी, कफ, और मुंह के छालों में 2 ग्राम मुलेठी के चूर्ण में शहद मिलाकर चाटने से लाभ होता है। गले में खराश होने पर मुलेठी के टुकड़े को मुंह में रखें।

मुलेठी झड़ते बालों के साथ त्वचा के लिए भी बेहद फायदेमंद है। मुलेठी और आंवला के पाउडर को पानी के साथ मिलाकर पीने से त्वचा स्वस्थ और चमकदार होती है।

अगर आपको हमेशा थकावट महसूस होती है तो आप 3 ग्राम मुलेठी चूर्ण के साथ एक चम्मच घी और एक चम्मच शहद को गर्म दूध के साथ मिलाकर पीएं। इससे आपकी थकान व कमजोरी दूर होगी।

मुलेठी डिप्रेशन जैसी परेशानी से छुटकारा दिलाने में भी काफी मददगार साबित होती है। इसमें मैग्निशियम और कैल्शियम जैसे खनिज उपलब्ध होते हैं, जिससे डिप्रेशन से छुटकारा मिलता है।

पेट के अल्सर की समस्या होने पर एक गिलास दूध के साथ एक चम्मच मुलेठी चूर्ण मिलाकर दिन में 2 बार पी सकते हैं।

मुलेठी चूर्ण को शहद में मिलाकर लेने से पेट दर्द और आंतों की ऐंठन में आराम मिलता है।

आंखों की रोशनी को बढ़ाने के लिए 4 ग्राम मुलेठी के चूर्ण को कुछ दिन लेने से लाभ होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »