भारत के लिए कोरोनावायरस के बाद एक और बुरी खबर सामने आ रही है

इस समय पूरी दुनिया को कोरोनावायरस से जूझ रही है, तो इसका असर भारत के ऊपर भी देखा जा रहा है,इस वर्ष उम्मीद की जा रही थी कि भारत की अर्थव्यवस्था वर्ष 2020 में सुधरेगी, लेकिन वायरस ने आकर इस पर भी पानी फेर दिया।

 जहां भारत सरकार द्वारा वर्ष 2020 में आर्थिक सुधार करने के लिए कई ऐतिहासिक कदम उठाए गए थे। लेकिन कोरोनावायरस की वजह से वह शायद सफल नहीं हो पाएंगे। 

सरकार के अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष ने 2019 के लिए भारत का आर्थिक विकास दर 4.8 प्रतिशत बताया था।

ऑनलाइन न्यूज़ डॉट लाइव के अनुसार आईएमएफ का मानना है कि वर्ष 2020 में 5.8 प्रतिशत और वर्ष 2021 में 6.5% विकास दर रहने की संभावना व्यक्त की है। 

आईएमएफ के मुख्य अर्थशास्त्री गीता गोपीनाथ ने कहा विद गैर बैंक काफी हद तक कमजोर है और भारत की आर्थिक विकास दर काफी कमजोर है, इसका सबसे बड़ा कारण है। ग्रामीण क्षेत्रों में कमजोर आय वृद्धि।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *