ब्रेजन बुल – पुराने जमाने की एक दिल दहला देनेवाली सजा

इतिहास में वैसे तो बहुत सारी दर्दनाक सजाओ के बारे में बताया गया है। जिनमे से किसी मे इंसान को उल्टा लटकाकर बीच से काट दिया जाता था। तो किसी मे इंसानो को चूहों से कटवाकर मारा जाता था। इसके अलावा बिजली के झटके देकर इंसानो को मारने वाली सजा को भी कुछ लोगो ने अपनाया था। इसी तरह की और भी अन्य सजाओ का उपयोग करके इंसानो को उनके गुनाहों की सजा दी जाती थी। लेकिन इतिहास में एक सजा ऐसी भी है जिसके बारे में सुनकर लोगो की रूह कांपने लगती थी। इस सजा का नाम ब्रेजन बुल है, जिसे ब्रोंज बुल या सिसिलियन बुल के नाम से भी जाना जाता है। इस सजा में इंसानो को पीतल से बने हुए सांड के अंदर डालकर तब तक भुना जाता था जब तक वे मर ना जाये।

ब्रेजन बुल सजा के बारे में बहुत सारी ऐतिहासिक किताबो में बताया गया है। फलारिस नाम का क्रूर शासक अपने राज्य के अंदर गलती करनेवाले लोगो को एक ऐसी सजा देना चाहता था, जिससे लोग सहम उठे इसलिए उसने ब्रेजन बुल का निर्माण करवाया था। दरसल इस ब्रेजन बुल को कुछ इस तरह से डिज़ाइन किया गया था की इसके पेट के अंदर किसी भी इंसान को आसानी से डाला जा सकता था।

इसके पेट मे इंसान को डालने के बाद नीचे से आग लगा दी जाती थी। इसके बाद इंसान जानवरो की तरह भून जाते थे। भुने हुए लोग अंदर से जब चीखते चिल्लाते थे तब ब्रेजन बुल के मुँह से एक मधुर संगीत सुनाई देता था और इसके नाक के अंदर से जो धुंआ निकलता था उसमें सुगंध होती थी।

ब्रेजन बुल के अंदर सबसे पहले इसके खोजकर्ता पेरिलोस को ही जलाया गया था। दरसल जब यह ब्रेजन बुल बनकर तैयार हुआ तो पेरिलोस ने शासक फलारिस को इसकी खासियत के बारे में बताया तो फलारिस ने इसकी खासियत को चेक करने के लिए पेरिलोस को ही इसके अंदर डाल दिया था।

खोजकर्ता पेरिलोस को जलाने के बाद शासक फलारिस काफी ज्यादा खुश हुआ था। इसके बाद इस ब्रेजन बुल के अंदर बहुत से लोगो को जलाया गया था। अंत मे जब फलारिस को शासक के पद से हटाया गया तब उसे भी इसी ब्रेजन बुल के अंदर ही डालकर मार दिया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »