बीरबल की मौत कैसे हुई थी ?

भारत मे शायद ही कोई ऐसा होगा जिसने अकबर और बीरबल के किस्सों के बारे में सुना न होगा। अकबर और बीरबल पर बहुत सारी कहानिया लिखी गयी है, और न जाने कितने सारे टीवी के कार्यक्रम भी बन चुके है। लेकिन आज हम उनके किस्सों के बारे में नही बल्कि बीरबल की मौत के बारे में जानेंगे। बीरबल की मौत कैसे हुई इस बात को बहुत ही कम लोग जानते है। तो आइए उनकी मौत कैसे हुई इस बारे में विस्तार से जानते है।

बादशाह अकबर के दरबार मे बीरबल एक मुख्य सेनापति और मुख्य सलाहकार भी थे। इसके साथ ही बीरबल राजा अकबर के नवरत्नों में से एक थे। 1586 में बादशाह अकबर ने अपनी एक सेना को युद्ध के लिए अफगानिस्तान भेजा था। उस सेना का नेतृत्व ज़ैन खान कर रहा था। अफगानिस्तान में जाकर अकबर की सेना अफगानिस्तान की सेना के आगे कमजोर हो गयी थी। जिससे अकबर की सेना को भरपूर जान माल का नुकसान हुआ था। ज़ैन खान ने अकबर को एक संदेश भेजवाया था कि उसे और सेना की जरूरत थी।

संदेश मिलने के बाद बादशाह अकबर ने बीरबल को सेना के साथ अफगानिस्तान भेजा था। बीरबल अक्लमंद तो थे लेकिन उन्हें युद्धनीतियो के बारे मे ज्यादा कुछ मालूम नही था। जब बीरबल की सेना अफगानियों की सेना के सामने उतरी तो बीरबल की सेना अफगानियों पर भारी पड़ी थी। बीरबल की सेना ने कई सारे अफगानियों को मार गिराया था। लड़ते लड़ते रात हो गयी थी इसलिए युद्ध को रोक दिया गया था।

इसी बीच अकबर ने अपने एक हकीम अब्दुल फतेह को भी सेना की एक फौज के साथ अफगानिस्तान भेज दिया था। लेकिन ज़ैन खान, बीरबल और अब्दुल फतेह में आपसी बनती नही थी। इसलिए तीनो एक दूसरे की सलाह मानने से इनकार करते थे। किसी एक बात पर तीनों की सहमति नही होती थी। तीनो ने अपनी अपनी रणनीति बनाई थी। अफगानिस्तान की सेना पर हमला करने के लिए तीनो अपने अपने रास्ते से निकल पड़े थे।

बीरबल अपनी सेना को लेकर जिस जगह रात को आराम करने के लिए रुके थे। उसी जगह अफगानिस्तान की सेना घात लगाकर बैठी थी। रात के अंधेरे में अफगानिस्तान की सेना ने बीरबल की सेना पर पत्थरों और तीरों से हमला कर दिया था। रात के अंधेरे में हुए इस अचानक हमले में बीरबल की सेना में भगदड़ मच गई थी। इस भगदड़ की की वजह से कई सैनिक मारे गए थे। बीरबल ने भी बचने की कोशिश की थी, लेकिन अफगानिस्तान की सेना की तीरों से वह भी घायल हो गए थे। कोई मदद न मिलने के कारण उनकी वही मौत हो गयी थी। जानकर यह कहते है कि इतनी सारी लाशों के बीच मे बीरबल की लाश का कुछ भी पता नही चला था। जिसके कारण उनकी लाश का अंतिम संस्कार भी नही हो पाया था। हर कोई हैरान था कि बीरबल जैसा बुद्धिमान व्यक्ति ऐसे मारा गया था। अकबर को बीरबल की मौत से बहुत बड़ा सदमा लगा था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Ads by Eonads
Translate »