पंडित जवाहर लाल नेहरू और 555 ब्रांड सिगरेट का क्या रोचक अनसुना क़िस्सा है? जानिए

इस वाक्य का सबसे सटीक उदाहरण पंडित नेहरू से बेहतर कोई हो नहीं सकता।बात उस समय कि हैं जब पंडित जवाहर लाल नेहरू कि मनपसंद सिगरेट के लिए एक विशेष विमान से उसे लाया गया था।

एक बार नेहरू भोपाल दौरे पर थे, तब वे राजभवन आए हुए थे। उनकी सिगरेट खत्म हो गई थी। इसी दौरान नेहरू का 555 ब्रांड सिगरेट का पैकेट भोपाल में नहीं मिला।

नेहरू को खाना खाने के बाद सिगरेट पीने की आदत थी। जब यहां स्टाफ को पता चला तो उन्होंने भोपाल से इंदौर के लिए एक विशेष विमान पहुंचाया। वहां एक व्यक्ति इंदौर एयरपोर्ट पर सिगरेट के कुछ पैकेट लेकर पहुंचा और वह पैकेट लेकर विमान भोपाल आया।

राजभवन की वेबसाइट में इस प्रसंग का उल्लेख है। यह अनसुना प्रसंग सत्ता कि पॉवर को भी दर्शाता हैं कि कैसे सत्ता में बैठने से आपके पास ताकत का हुजूम रहता हैं तथा कैसे आप भलाई में उस सत्ता का सदुपयोग करते हैं या फिर अपने शौक के लिए दुरुपयोग करते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »