धान क्रय केन्द्रों पर हुई गड़बड़ी या किसान हुए परेशान तो सीधे डीएम होंगे जिम्मेदार- सीएम योगी

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी जिलाधिकारियों
को प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना में ऋण वितरण की संख्या बढ़ाने के
निर्देश दिए हैं।

उन्होंने कहा है कि प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना
(आयुष्मान भारत) एवं मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना में अभियान
चलाकर गोल्डन कार्ड बनाए और वितरित किए जाएं। उन्होंने सभी
4,000 धान क्रय केन्द्रों को हर हाल में संचालित कराने के निर्देश भी
दिए हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि धान क्रय केंद्रों पर आर्थिक गड़बड़ी
होने या किसानों को परेशानी होने पर डीएम की जवाबदेही तय होगी।
मुख्यमंत्री ने सोमवार रात प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना, प्रधानमंत्री जन
आरोग्य योजना (आयुष्मान भारत), मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना
तथा धान क्रय केन्द्रों के संचालन की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से
समीक्षा की।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में प्रस्तावित सभी 4,000
धान क्रय केन्द्रों का संचालन किया जाए। किसानों को न्यूनतम
समर्थन मूल्य के अनुरूप ही धान का मूल्य प्राप्त हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *