टेस्ट क्रिकेट में तिहरा शतक लगाने वाले बल्लेबाज कौन-कौन हैं?

आधुनिक समय में जहाँ क्रिकेट चकाचौंध और पैसों के साथ साथ चौकों और छक्कों की बरसात करता नजर आता है। वहीं क्रिकेट की असली पहचान आज भी टेस्ट क्रिकेट ही है। बेेेशक क्रिकेट अब छोटे प्रारूपों में ही ज्यादा लोकप्रिय हो रहा है ।लेकिन टेस्ट क्रिकेट को प्यार करने वालों की भी कमी नहीं है।

लेकिन क्या आप जानते है कि कैसे पांच दिनों तक खेले जाने वाला क्रिकेट आज कुछ घंटों तक के खेल तक कैसे पहुँचा। तो उसके पीछे सबसे बड़ा हाथ उन धुरंधरों का है जिन्होंने नीरस होते जा रहे टेस्ट क्रिकेट में जान फूँकी।पहले जहाँ एक बल्लेबाज को शतक जड़ने में दो दो दिन लग जाते थे लेेकिन कुछ ऐसे धुरंधर भी हुए है जिन्होंने तेजी से रन बनाने की शुरुआत की। इन क्रिकेटरों में सदी के महान बल्लेबाज डॉन ब्रैडमैन और विविड रिचर्डसन का नाम सबसे पहले आता है।

फिर नाम आता है ब्रायन लारा,कपिल देव, इमरान खान, सचिन तेंडुलकर, रिकी पोंटिग,मैथ्यू हेडन,केविन पीटरसन,बरडम मैकलम, विरेन्द्र सहवाग, क्रिस गेल, ऐबी डिविलियर्स जैसे क्रिकेटरों का जिन्होंने टेस्ट क्रिकेट मे नई जान फूँक ड़ाली। जहाँ पहले खिलाड़ियो को शतक बनाने में मशक्कत करनी पड़ती वहीं इन धुरंधरों ने दोहरे,तिहरे यहाँ तक की ब्रायन लारा ने तो 400 रन का आंकड़ा पार कर ड़ाला। 300 रन का आंकड़ा पार पाना टेस्ट क्रिकेट की बहुत बड़ी उपलब्धी मानी जाती है ।

आज तक टेस्ट क्रिकेट में कुल 31 बार 300 रनों का आंकड़ा पार किया गया है।10 टेस्ट खेलने वाली टीमों में से आठ टीमों के खिलाड़ी ये कारनामा किया हैं। अफ़गानिस्तान,बंग्लादेश,आयरलैंड और जिम्बाबे टीम का कोई भी खिलाड़ी ये मुकाम हासिल नहीं कर सका। कुल 27 खिलाड़ियों ने अब तक 31 तिहरे शतक जड़े हैं आस्ट्रेलिया के डाॅन ब्रैडमैन भारत के विरेन्द्र सहवाग और वेस्टइंडीज के ब्रायन लारा व क्रिस गेल ये कारनामा दो दो बार कर चुके हैं। सबसे पहले तिहरा शतक इग्लैंड के एंड़ी संड़म ने अप्रैल 1930 में वेस्टइंडीज के खिलाफ जड़ा था। उसी साल जुलाई 1930 में डाॅन ब्रैडमैन ने इग्लैंड के खिलाफ तिहरा शतक जड़ दिया।

जहाँ इग्लैंड के वली होमंड़ ने 1933 में न्यूजीलैंड के खिलाफ तिहरा शतक जड़ा। वहीं डाॅन ब्रैडमैन ने इग्लैंड के ही खिलाफ 1934 में दूसरी बार ये कारनाम कर ड़ाला।इसके चार साल बाद 1938 में इग्लैंड के लेन हुटन ने आस्ट्रेलिया के खिलाफ तिहरा शतक बनाया। अगला तिहरा शतक बनने को 20 साल का लंबा इंतजार करना पड़ा और तिहरे शतक के सूखे को दूर किया पाकिस्तान के हनीफ मुहम्मद ने जिन्होंने 1958 में वेस्टइंडीज के खिलाफ सीरीज के पहले मैच में ये कारनामा किया ।इसी सीरीज के तीसरे मैच में वेस्टइंडीज की तरफ से हिसाब बराबर करते हुए गैरी सोबर्स ने तिहरा शतक ठोक ड़ाला।

इस तरह एक ही सारीज में दो तिहरे शतक जड़े जाने का कीर्तिमान बन गया जो आज तक बरकरार है।इसके बाद 1964 में आस्ट्रेलियाई बल्लेबाज बाॅब सिम्पसन,1965 में इग्लैंड के जाॅन ऐडरिच,1966 में आस्ट्रेलियाई बाॅब काउपर,1974 में वेस्टइंडीयन लांरस रोव ने तिहरे शतक जड़े। इसका बाद फिर 16 साल लग गए अगले तिहरे शतक को जो 1990 में इग्लैंड के महान बल्लेबाज ग्राहम गूच के बल्ले से भारत के खिलाफ आया इसके चार साल बाद 1994 में वेस्टइंडीज बल्लेबाज ब्रायन लारा ने टेस्ट क्रिकेट का सबसे बड़ा स्कोर बनाते हुए इग्लैंड के खिलाफ 375 रन बना डाले। 1997 में श्रीलंकाई बल्लेबाज सनत जयसूर्य ने भारत के खिलाफ तिहरा शतक ठोककर इस सूची में अपना नाम दर्ज करवाया।जहाँ बीसवीं सदी का आखरी तिहरा शतक आस्ट्रेलियाई मार्क टेलर ने पाकिस्तान के खिलाफ पाकिस्तान में ठोका ।वहीं 21वीं सदी का पहला तिहरा शतक पाकिस्तान के हो इंजमाम-उल-हक ने न्यूजीलैंड के खिलाफ 2002 पाकिस्तान में ही ठोका।

2003 में आस्ट्रेलियाई मैथ्यू हेडन ने जिम्बाबे के खिलाफ 380 रन बनाकर ब्रायन लारा का रिकॉर्ड तोड़ दिया। जहाँ 2004 में पहला भारतीय तिहरा शतक विरेन्द्र सहवाग के बल्ले से निकला ।वहीं इसी साल ब्रायन लारा ने सर्वाधिक रनो का रिकॉर्ड फिर अपने नाम करते हुए 400 रन बना ड़ाले।जो कि आज भी इकलौते चौहरे शतक के तौर पर उन्हीं के नाम दर्ज है।दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 2005 में वेस्टइंडीयन क्रिस गेल, 2006 में श्रीलंकाई महिला जयवर्धने और 2008 में भारत के विरेन्द्र ने अपना दूसरा दोहरा शतक ठोका। इस तरह एक ही टीम के खिलाफ लगातार तीन तिहरे शतक लगना भी अपने आप दिलचस्प बात है।

2009 में पाकिस्तान के युनस खान ने तिहरा शतक बनाया। 2010 में वेस्टइंडीयन क्रिस गेल ने भी अपना दूसरा दोहरा शतक ठीका।जहाँ 2012 में आस्ट्रेलियाई माइकल क्लार्क और दक्षिण अफ्रीकन हाशिम अमला ने तिहरे शतक ठोके।वहीं 2014 में श्रीलंकाई कुमारा संसंगकारा और न्यूजीलैंड के ब्रेन्डन मैकलम ने तिहरे शतक जड़े। साल 2016 में भी पाकिस्तान के अजहर अली और भारत के करून नायर ने तिहरे शतक जड़े। आखरी तिहरा शतक आस्ट्रेलियाई डेविड वार्नर ने नवम्बर 2019 में पाकिस्तान के खिलाफ जड़ा। इस तरह टेस्ट क्रिकेट में 27 खिलाड़ियों ने कुल 31 शतक लगाए। कोविड-19 के बाद इग्लैंड और वेस्टइंडीज के बीच टेस्ट मैच से टेस्ट मैच फिर वापिस आ चुका है। और जल्द ही आपको अगला तिहरा शतक देखने को मिल सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *