जानिए सुहागा खाने के बेहतरीन फायदे

1 सुहागा करे सिर की रूसी व फंगस का इलाज

50 ग्राम कच्चा सुहागा को तवे पर भून कर पीस लेवे । इससे सुहागे का फूला कहा जाता है ।

एक चम्मच सुहागे का फूला एक चम्मच नारियल तेल व एक चम्मच दही मिलाकर सिर में मालिश करने से वह आधा घंटे पश्चात सिर धोने से सिर में होने वाली रूसी तथा फंगस से छुटकारा मिलता है ।

2 खांसी जुकाम नजला

50 ग्राम कच्चा सुहागे को तवे पर भून कर पीस लेवे । इसमें से चुटकी भर घुंट भर पानी में घोलकर दिन में 4 बार पीने से जुकाम मे आराम मिलता है।

इसको शहद के साथ मिलाकर लेने से भी वही फायदा मिलता है।

3 सुहागा मिटाऐ पसीने की दुर्गंध

एक चम्मच सुहागा एक बाल्टी पानी में घोल लेवे तथा इस पानी से नहाने से पसीने की दुर्गंध की समस्या खत्म हो जाएगी ।

4 अपचन अजीर्ण

बच्चा सोते सोते रोने लगे, दही की तरह जमे दुध की उल्टी करे, हरे रंग का दस्त हो तो समझे कि बच्चें का खाया हुआ पचता नहीं है। इसके िलए चुटकी भर सुहागा दुध मे मिलाकर 2 बार पिलाने से लाभ होता है।

गले का बैठना (स्वर भंग)

सुहागा को पीसकर चुटकी भर चूसने से बैठी हुई आवाज खुल जाती हैं।

6 त्वचा रोग

भूने हुऐ सुहागे को तेल में मिलाकर लगाने से त्वचा सम्बंधी रोग में आराम मिलता है।

7 आँख आना

सुहागा और फिटकरी ( 2 ग्राम दोनों) को 1 लीटर पानी में घोल ले व इससे बार-2 आँख धोने व बुद बुंद आँख में डालने से बहुत जल्दी लाभ होता है।

8 दमा

30 ग्राम सुहागे को 60 ग्राम शहद में मिलाकर रख देवें । कुछ दिनों तक 3 अंगुली चाटने से दमा रोग में बहुत आराम मिलता है।

सुहागे का फूला और मूलहटी को बराबर भाग में पीसकर व कपड़े में छान कर बारिक चूर्ण बना ले। आधा ग्राम से लेकर 1 ग्राम चूर्ण को दिन में 2 से 3 बार शहद के साथ मिलाकर चाटने से भी दया में आराम मिलता है।

इसका सेवन करने से खाँसी तथा जुकाम में भी आराम मिलता है।

विशेष

सुहागे को दवा के रुप मे इस्तेमाल करने के समय दही, केला, चावल तथा ठंडे पदार्थो का सेवन नही करना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »