जानिए मास्क पर एक हफ्ते से ज्यादा एक्टिव रह सकता है कोरोना वायरस

कोरोना वायरस ने भारत समेत पूरी दुनिया में हंगामा मचा दिया है। दुनिया के सबसे शक्तिशाली देश अमेरिका से लेकर ब्रिटेन तक कोरोना के कहर से कोई नहीं बचा। अगर लाखों लोग इस वायरस की चपेट में हैं, तो हजारों लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। भारत में 100 से अधिक लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। और लगभग 5000 लोग इस वायरस से संक्रमित हैं।

शोधकर्ताओं के अनुसार, सबसे ज्यादा हैरान करने वाली बात यह थी कि, संक्रमित व्यक्ति द्वारा इस्तेमाल किए गए मास्क पर कोरोना वायरस का सफाया सात दिन बाद हो पाया। अखबार और टिशू पेपर पर यह वायरस तीन घंटे में खत्म हो जाता है। इस अध्ययन में यह भी जानने की कोशिश की गई कि यह खतरनाक वायरस किस तरह के तापमान में किन चीजों पर कितनी देर जिंदा रहता है।

इस रिपोर्ट में लोगों को सावधानी बरतने के लिए कहा गया है। कोरोना वायरस का खात्मा करने के लिए बर्तनों और प्लास्टिक की सतहों को क्लीनर, ब्लीच और साबुन का इस्तेमाल कर संक्रमण मुक्त करने की सलाह दी गई है। मास्क पर भी कोरोना वायरस हो सकता है इसलिए मास्क का उपयोग करने के बाद उसे नष्ट करने के लिए कहा गया है। इसके साथ ही मास्क को किसी भी स्थिति में दोबारा उपयोग न करें। मास्क का इस्तेमाल कर उसे डस्टबीन में फेंक दें।

घर पर इस तरह बनाएं मास्क

घर पर मास्क को बनाने के लिए आपको सिर्फ ए4 साइज कपड़े, सुई धागे और रबर बैंड की जरूरत होगी। सबसे पहले कपड़े को चौकोर आकार (करीब 7 से 8 इंच) काट लें। इसके बाद कपड़े का निचला सिरा और ऊपरी सिरा मोड़ लें। एक रबर बैंड कपड़े के बाएं सिरे और दूसरा रबड़ बैंड कपड़े के दाहिने सिरे पर लगाकर सिलाई कर लें। मास्क बनाते वक्त इस बात का ध्यान रखें कि रबर बैंड के बीच का हिस्सा आपके मुंह और नाक को ढंकने के लिए पर्याप्त हो। रबर बैंड को लगाकर चारों किनारों से अच्छी तरह से सिलाइ कर लें। आपका मास्क तैयार है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »