जब 2008 में नोकिया कंपनी मोबाइल की दुनिया में नंबर एक पर थी, फिरभी नोकिया मोबाइल फोन अचानक बाजार से बाहर क्यों हो गए? जानिए

आाज से 10 साल पहले भारत सहित दुनिया के कई देशों में नोकिया के फोन का दबदबा रहा। करीब हर गली, हर घर और हर हाथ में नोकिया का फोन देखने को मिलता था। नोकिया के रिंगटोन हर जगह सुनाई देते थे, लेकिन आखिर ऐसा क्या हुआ कि दमदार और बजट फोन होने के बावजूद मोबाइल बाजार से नोकिया के फोन ही गायब हो गए।

इसके 5 बडे़ कारण।

बाजार को समझने में देरी

नोकिया के फोन का बाजार से गायब होना इस बात का सबूत है कि कंपनी ने मौजूदा बाजार को नहीं समझा। 2जी के बाद जिस तरह 3 जी ने बाजार में एंट्री की इसका फायदा उठाने में नोकिया कंपनी फेल रही, जबकि सैमसंग, एलजी और माइक्रोमैक्स ,इंटेक्स जैसी घरेलू कंपनियों ने इसका जमकर फायदा उठाया।
स्मार्टफोन लॉन्च करने में देरी

नोकिया के फोन के बाजार से गायब होने के पीछे एक कारण ये भी है कि 3जी नेटवर्क को देखते हुए जहां बाकी कंपनियों ने स्मार्टफोन पेश किए, वहीं नोकिया फीचर फोन में अटकी रही। नोकिया ने 3जी के साथ स्मार्टफोन की ताकत को नहीं समझा।

सैमसंग के स्मार्टफोन ने नोकिया को पछाड़ा

सैमसंग ने 3जी नेटवर्क का फायदा उठाते हुए एक के बाद एक कई स्मार्टफोन लॉन्च किए, जबकि नोकिया एकदम शांत रही। सैमसंग के लिए यह मौका उसकी तकदीर बदलने वाला साबित हुआ और पूरे बाजार में सैमसंग के फोन छा गए। इस दौरान सैमसंग ने 3 हजार के रेंज तक भी कई फोन उतारे जिसे लोगों ने काफी पंसद किया। हर घर में जहां पहले नोकिया के रिंगटोन सुनाई देते थे, वहीं अब सैमसंग के रिंगटोन बजने लगे।

चाइनीज कंपनियों का भारत में आना

चाइनीज मोबाइल कंपनियों का भारत में आना सैमसंग और नोकिया दोनों के लिए महंगा साबित हुआ, हालांकि सैमसंग बाजार में डटा रहा, लेकिन नोकिया गायब हो गया। वहीं नोकिया ने माइक्रोसॉफ्ट लूमिया के साथ बाजार में वापसी की कोशिश भी की, लेकिन सफलता नहीं मिली। इसका बड़ा कारण एंड्रॉयड प्लेटफॉर्म का आना था। तमाम कंपनियों ने जहां एंड्रॉयड फोन पेश किए, वहीं नोकिया ने विंडो फोन लॉन्च किया जो यूजर्स को रास नहीं आया।

महंगे रहे नोकिया के स्मार्टफोन

नोकिया ने अपने विंडो फोन के साथ बाजार में वापसी की कोशिश तो कि लेकिन फोन के बजट का ख्याल नहीं रखा। माइक्रोमैक्स, इंटेक्स, सैमसंग और चाइनीज कंपनियों ने जहां 2 हजार रुपये से लेकर 3 हजार रुपये के रेंज में स्मार्टफोन लॉन्च किए, वहीं नोकिया के विंडो फोन इस रेंज में थे ही नहीं। कुछ फोन थे भी तो उनमें फीचर्स की कमी थी।

नोकिया 3310, नोकिया 3, 5 और 6 से कंपनी को बड़ी उम्मीद

करीब 4-5 साल बाजार से गायब रहने के बाद नोकिया ने एक बार से बाजार में वापसी की कोशिश की है। इस कड़ी में नोकिया ने पुराने नोकिया 3310 के नए अवतार के साथ नोकिया 3, नोकिया 5 और नोकिया 6 को बाजार में पेश किया है। नोकिया 3310 तो भारत में लॉन्च हो गया है, लेकिन नोकिया 3,5,6 की लॉन्चिंग को लेकर अभी भी कुछ साफ नहीं है। वहीं नोकिया 3310 की बिक्री 18 मई से हो रही है, लेकिन अभी तक बिक्री के आंकड़े सामने नहीं आए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »