जब पुलिस ने एक व्यक्ति को किया केला दिखाने के आरोप में गिरफ्तार

पुलिस लोगों की सुरक्षा के लिए होती है। पुलिस से हमेशा लोगों की सुरक्षा की उम्मीद की जाती है। लोगों की सुरक्षा के लिए पुलिस हमेशा अपने पास एक रिवाल्वर जरूर रखती है। किंतु कई बार कुछ ऐसी घटनाएं हो जाती हैं जब पुलिस की जान भी खतरे में पड़ जाती है। इसलिए पुलिस हमेशा चौकन्नि रहती है। उन्हें डर रहता है कि कोई उन पर हमला ना कर दे। पुलिस हमेशा किसी भी वारदात के लिए तैयार रहती है। परंतु कई बार पुलिस से भी जांच परख करने में गलती हो ही जाती है। ऐसा ही एक वाकया अमेरिका के पश्चिमी कोलोराडो शहर में हुआ जहां एक व्यक्ति के सिर्फ केला दिखाने मात्र से ही पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया।

अमेरिका के पश्चिमी कोलोराडो की पुलिस का कहना है कि 27 साल के नाथन रॉल्फ चैनिंग ने पुलिस के ऊपर केला ताना जिसे ड्यूटी पर तैनात पुलिसकर्मियों ने बंदूक समझ लिया। अरेस्ट एफिडेविट में चैनिंग को गिरफ्तार करने वाले पुलिसकर्मियों ने कहा है कि उन्हें लगा कि उनका जीवन खतरे में है हलांकि उन्होंने यह जरूर देखा था कि उस व्यक्ति के हाथ में जो चीज है वह पीले रंग की है पर आजकल हैंडगन कई रंग और आकार के हो सकते हैं और वे किसी तरह का खतरा मोल लेना नहीं चाहते थे।

आम आदमी की सुरक्षा के लिए जिम्मेदार पुलिस खुद अपनी सुरक्षा को लेकर कितनी डरी रहती है वह इस घटना से पता चलता है जब एक व्यक्ति को पुलिस को केला दिखाने की कीमत गिरफ्तार होकर चुकानी पड़ी। पुलिस ने उसे गुंडागर्दी के आरोपों के तहत गिरफ्तार कर लिया।

पुलिसकर्मी का कहना है कि वह अपने हथियार निकालने ही जा रहा था कि चैनिंग चिल्लाया यह बन्दूक नहीं केवल केला है। चैनिंग ने अपने बयान में पुलिस को बताया है कि वह यूट्यूब के लिए एक हल्का फुल्का चोय सा वीडियो बनाना चाहता था जिसका लोग छुट्टी के दिन आनंद ले सकें और वह इसी वीडियो के लिए ट्रायल रन कर रहा था जब पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »