चाय पीना कितना नुक्सानदायक हो सकता है जानिए

आज से 250 साल पहले चाय हमारी संस्कृति में नहीं थी। ये विदेशियों द्वारा हमारे संस्कृति में लाई गई। तब से चाय व्यवहार में लाई जाने लगी। वर्तमान में कोई किसी के घर आये तो सबसे पहले चाय के लिए ही पूछा जाता है। चाय सभी पीते हैं बहुत कम ही ऐसे लोग मिलेंगे जो चाय नहीं पीते।

चाय के नुक़सान-

1)- ज्यादातर लोगों की खाली पेट चाय पीने की आदत होती है। ये लोग नींद से उठकर ही चाय का सेवन करते हैं , फिर दूसरे काम शुरू करते हैं। ये बहुत ग़लत है। खाली पेट चाय पीने से एसिडिटी बढ़ जाती है। हमारे पेट से जो समय-समय पर पाचक रस निकलते हैं जो हमारे पेट के खाने को पचाने का काम करते हैं। खाली पेट चाय पीने से ये पाचक रस निकलना कम हो जाते हैं। इस कारण पाचन-तंत्र ठीक से काम नहीं कर पाता है। धीरे धीरे इन्सान कब्ज़ का शिकार हो जाएगा। साथ साथ भूख लगना भी कम हो जाता है।

2)- जो लोग सारे दिन काम में व्यस्त रहते हैं, उनकी ऐनर्जी समय समय पर कम होती रहती है और वो अपनी ऐनर्जी को बढ़ाने के लिए समय समय-समय पर चाय का सेवन करते करते हैं। ऐसा करने से उन्हें उस समय के लिए तो ऐनर्जी मिल जाती है,पर इससे उनके शरीर को कितना नुक्सान होता है वो बात नहीं समझ पाते। दिन में 4-5 कप चाय पीने से नींद न आने की बिमारी अर्थात अनिद्रा हो सकती है ‌।

3)- एक कप चाय का सेवन करने से 40-50 कैलोरी शरीर में घूसती है। जो लोग दिन में 4-5 कप चाय पीते हैं, वो 250-300 कैलोरी अपने शरीर में डालते हैं। इससे शरीर का मोटापा बढ़ता रहता है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार जो लोग बहुत चाय पीते हैं उन्हें ओस्टियोफ्लोरोसिस नामक एक बिमारी हो सकती है। इस बिमारी में हड्डियां कमजोर होती जाती है।

4)- चाय में प्रचुर मात्रा में कैफिन होता है। जो रक्त चाप बढ़ाने का काम करता है। अतः उच्च रक्तचाप वाले व्यक्ति को तो चाय का सेवन कम से कम करना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »