चमत्कार देखने हैं तो भारत के इन 3 मंदिरों में चले जाओ,और देखे खुद चमत्कार

ज्वाला देवी मंदिर
यह भारत का तीसरा सबसे बड़ा चमत्कारी मंदिर के रूप में जाना जाता है। बता दें ज्वाला देवी का मंदिर हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले में कालीधार पहाड़ी के बीच में बना हुआ है। इस मंदिर के अंदर एक आग की ज्वाला निकलती रहती है। धार्मिक गुरु बताते है कि जिस जगह इस मंदिर का निर्माण किया है उस स्थान पर माता सती की जीभ गिरी थी। जिसके कारण इस मंदिर में ज्वाला निकलती रहती है।

जगन्नाथपुरी मंदिर
जगन्नाथ पुरी मंदिर को भारत का दूसरा सबसे चमत्कारी मंदिर के रूप में जाना जाता है आप सभी लोगों को तो जगन्नाथ पुरी मंदिर के बारे में जरूर मालूम होगा जो उड़ीसा राज्य में मौजूद है। लोग कहते है कि इस मंदिर के गुम्बद की छाया कभी भी जमीन पर नही पड़ती है। इस मंदिर पर लगा ध्वज हमेशा हवा के विपरीत दिशा में उड़ता रहता है। इसके अतिरिक्त इस मंदिर के आसपास कोई भी पक्षी नही उड़ सकता है।

कालभैरव मंदिर
काल भैरव मंदिर भारत का सबसे चमत्कारी मंदिर के रूप में जाना जाता है जो मध्य प्रदेश राज्य की उज्जैन से लगभग 8 किलोमीटर दूर पर स्थित है। इस मंदिर की सबसे खास बात यह है कि इस मन्दिर में मौजूद मूर्ति मदिरा पान करती है। लाखों भक्त इस मन्दिर में काल भैरव की पूजा करने आते है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »