खुलासा हुआ कि इस वजह से महेंद्र सिंह धोनी ने छोड़ दी कप्तानी जानिए

टीम इंडिया के सबसे सफल कप्तानों में शुमार भारत को आईसीसी के तीनों कब दिलाने वाले पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने अपने करियर में कई मुकाम हासिल की है भारतीय टीम के सितारे ने क्रिकेट के मैदान पर अपने विरोधियों का कई बार मुंह बंद किया है

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने अपने करियर में मैं सिर्फ बैटिंग नहीं की कीप रिंग बल्कि अपने दिमाग से भी विरोधी टीम की कमर तोड़ी है भारतीय टीम को कई मौकों पर जीत दिलाने वाले कई बार भारतवासियों को गौरवान्वित महसूस कराने वाले धोनी ने साल 2017 में तब सबको गहरे सदमे मिला दिया

जब उन्होंने अचानक किसी को बिना बोले वनडे और टी-20 की की कप्तानी छोड़ दी धोनी ने वनडे T20 फॉर्मेट मैं कप्तानी छोड़ी तब यह भारतीय प्रसंगों के लिए किसी सदमे से कम नहीं कि क्योंकि धोनी ने यह फैसला अचानक लिया था किसी को इसकी भनक न लगे हालांकि भारतीय प्रशंसकों को तब तक इसकी आदत हो चुकी थी लोगों को तब तक पता चल गया था धोनी जब भी कोई फैसला लेते हैं तो कुछ अंदाज मैं करते हैं

क्योंकि इसी अंदाज में इसी अंदाज में पहले भी उन्होंने कप्तानी छोड़ी थी दिसंबर 2014 में धोनी ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज के बीच में अचानक टेस्ट टीम की कप्तानी छोड़ी थी इतना ही इतना ही नहीं उन्होंने टेस्ट विकेट से तत्काल रिटायर्ड होने की घोषणा कर दी थी टेस्ट टीम की कप्तानी छोड़ने पर धोनी ने बताया था वी वनडे और टी-20 में ज्यादा ध्यान देंगे

इस वजह से कप्तानी छोड़ सन्यास की घोषणा कर दी लेकिन क्या आप जानना कि धोनी ने आखिर वनडे T20 की कप्तानी छोड़ी एक बात तो तय है कि धोनी का हर एक प्रसंग यह जानना चाहता ही होगा कि आखिर टीम इंडिया के सफल कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने आखिर क्यों वनडे और टी-20 की कप्तानी छोटी आपको बता दें हाल ही में रांची के बिरसा मुंडा हवाई अड्डे पर सीआईएसएफ के साथ एक मोटिवेशनल प्रोग्राम के दौरान धोनी ने वनडे और टी20 की कप्तानी से हटने की वजह का खुलासा कर दिया है वनडे और टी20 की कप्तानी छोड़ने की वजह का खुलासा करते हुए

पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने कहा मैंने कप्तानी से इस्तीफा दे दिया क्योंकि मैं चाहता था कि नहीं कप्तान विराट कोहली को 2019 के वर्ल्ड कप से पहले एक टीम तैयार करने के लिए पर्याप्त समय मिले कोहली को उचित समय टीम का चयन करना संभव नहीं है मेरा मानना है कि मैंने सही समय पर कप्तानी छोड़ दी इसके अलावा इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में भारत के निराशाजनक प्रदर्शन के बारे में पूछे जाने पर धोनी ने कहा कि अभ्यास मैचों की कमी की वजह से भारतीय बल्लेबाजों को अपमान जैसे परिस्थितियों से गुजरना पड़ा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »