क्रिकेट में कौन सी ऐसी घटनाएं है कि जिस कारण क्रिकेट प्रेमियों को गहरा सदमा पहुंचा था? जानिए

क्रिकेट इतिहास में हुए कुछ ऐसे व्याख्या हुए है जिसने इतिहास भी रचा है और खेल प्रेमियों के दिलों को धक्का भी लगाया है। चलिए नजर डालते है ऐसे ही कुछ घटनाओं पे।

१) भारत बनाम श्रीलंका के वर्ल्ड कप सेमीफाइनल सन १९९६ में भारत की शर्मनाक हार जो की कोलकाता के ईडन गार्डेंस में खेला जा रहा था और मैच भारत की पकड़ से छूटता जा रहा था, इसे देखकर भारत कि जनता आग बबूला हो गई और स्टेडियम में जगह जगह पे आग लगाई जा रही थी पानी की बोतले और जो मिले वो ग्राउंड पे फेका जा रहा था।

इस मैच में श्रीलंका ने भारत के सामने २५१ रन का लक्ष्य रखा था जिसका पीछा करते हुए भारत ९८ रन बनाते हुए २ विकेट गंवा चुका था और देखते ही देखते स्कोर जा पहोचा १२० रन पर ८ विकेट, विनोद कांबली और अनिल कुंबले क्रिस पे थे। विनोद कांबली भी बहोत संभल के खेल रहे थे और उनके रन कि गति बड़ी धीमी जब इसके उपरांत परिस्थिति की मांग तेज खेलने की थी क्यूंकि केवल ९५ गेंदों मे १३२ रनों की आवश्यकता थी, ये सारा मंज़र देख कर स्टेडियम में बैठी जनता भड़क उठी और ये हुआ।

ये सब होता हुआ देख विनोद कांबली खुद को रोनेसे ना रिक पाए।

ऐसी परिस्थिति देखते हुए आईसीसी को मैच को श्रीलंका के पक्ष में देने की घोषणा करनी पड़ी।

यह सच में दुखदाई है कि क्रिकेट जो की सज्जनों का खेल माना जाता है और ऐसे मैच को पूरा ना होते हुए भी निर्णय की घोषणा करनी पड़ी।

२) मैच फिक्सिंग स्कैंडल

इसकी शुरुआत हुई सन १९९९ में जब भारत और दक्षिण अफ्रीका के मैच में मुंबई एवं दिल्ली पुलिस को संशय हुआ और उनसे पूछताछ करना चाहा परन्तु दक्षिण अफ्रीका की सरकार ने मना कर दिया और फिर वहां पूछताछ होने पे हैंसी क्रोनिए ने बताया कि उन्होंने मैच फिक्सिंग की थी और उन्होंने साथ में अजय जडेजा, मोहम्मद अजहरुद्दीन का नाम भी लिया।

बीसीसीआई ने मोहम्मद अजहरुद्दीन पर पूरे जीवन के लिए बैन लगा दिया और अजय जडेजा के ऊपर 5 साल का बैन लगा दे दीया।

इस सारी घटना के बीच भारत के पूर्व खिलाड़ी मनोज प्रभाकर ने भी मौके को भुनाना चाहा और सनसनीखेज अंदाज़ में बताया कि भारतीय टीम के ड्रेसिंग रूम में ये आम बात है, इसमें बहुत बड़े खिलाड़ी का नाम है और अभी नाम नहीं बता सकते ऐसा बोलकर सनसनी बढ़ा दी और लाइमलाइट में आ गए। फिर कुछ दिनों बाद उन्होंने कहा कि वह कोई और नहीं भारत के पूर्व कप्तान और विश्व विजेता कपिल देव है कपिल ने खराब प्रदर्शन के लिए ₹2500000 की घूस देने की बात करी थी।

ऐसा इल्जाम सुनकर कपिल देव ने कहा में घूस देने से पहले आत्महत्या कर लेता। करण थापर को एक इंटरव्यू के दौरान उनकी आंखों में आंसू आ गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Do NOT follow this link or you will be banned from the site!
Translate »