क्यों रजनीकांत एक बार फिर से सुर्खियों में हैं, जानकर आप भी रह जायेंगे हैरान

फ़िल्म सुपरस्टार रजनीकांत फिल्मों में हमेशा ही अपनी लाजवाब एक्टिंग और एक्शन को लेकर हमेशा चर्चा का विषय बने रहते हैं पिचले वर्ष रोबोट 2.0 जैसी धमाकेदार और सफल फ़िल्म देने वाले अभिनेता रजनीकांत ने अभी हाल ही में दरबार नामक फ़िल्म में पुलिस की मुख्य भूमिका का किरदार निभाया था ।लेकिन तमिल इंडस्ट्री में ये फ़िल्म कुछ खास कमाल न कर पाई दिखाई।फ़िल्म ने सिर्फ 50 करोड़ कुछ का कुल बिजनेस किया था।

इसी वजह से रजनी सर को मिलने वाली शेष फीस राशि मे तकरीबन 50 करोड़ से अधिक राशि को कम कर दिया गया है।इतनी बड़ी राशि वो भी अभिनय की एवज में मिली फीस को यूँ इस तरह फ़िल्म के निर्माता को वापिस लौटा देना सिर्फ रजनीकांत जैसा मेगा स्टार और फ़िल्म के निर्माता और निर्देशक को पैसा वापिस मुहैया करवाना सिर्फ रजनीकांत जैसा भला इंसान ही कर सकता है।इसलिये तो करोड़ो लोग इन्हें सिर्फ एक अभिनेता नहीं बल्कि भगवान मानते हैं।

यह थी एक अहम वजह जिस कारण रजनीकांत आज सुर्खियों में बने हुए हैं।आगे जाने ऐसी कौन सी और दूसरी वजह है जिस कारण अभिनेता रजनीकांत चर्चा का विषय बन

दरहसल रजनीकांत और उनके करोड़ों चाहने वाले तकरीबन एक वर्ष से यह मंथन कर रहे थे की चेन्नई की राजनीति में कैसे खुद को लोगों के बीच पेश किया जाए।ऐसे में आज रजनीकांत ओर उनके करोड़ों समर्थकों ने अगले माह अर्थात नव वर्ष में पार्टी बनाने की बात कही है साथ ही में रजनीकांत की अगुवाई में ही अगले माह पार्टी के नाम का एलान किया जायेगा।

चेन्नई की तीन बार मुख्यमंत्री रह चुकी जयललिता और कई बार मुख्यमंत्री रह चुके करुणानिधि जैसे दोनों नेताओं के यूँ मृत हो जाने से चेन्नई की राजनीति में एक खाली पन से महसूस होने लगा था।ऐसे में इस खाली पन को भरने के लिए और बिना भ्रष्टाचार की सरकार बनाने के लिए अभिनेता रजनीकांत काफी समय से प्रयास में थे।अब जाकर अभिनेता रजनीकांत ने नव वर्ष में पार्टी का नाम बताने की घोषणा की है साथ ही पार्टी किन नीतियों पर चुनाव लड़ेगी इस बात का खुलासा करने की घोषणा की है।दोस्तों ये थी वह दूसरी अहम ओर खास वजह जिस वजह से रजनीकांत आज चर्चा का केंद्र बने हुए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Do NOT follow this link or you will be banned from the site!
Translate »