क्यों मामा शकुनि को बीआर चोपड़ा की महाभारत में लंगड़ा, टंगड़ा, नाटा और जोकर की तरह दिखाया गया है, जबकि वह गांधार राज्य का तगड़ा जवान राजा था?

उसने अपने पैरों में खंजर चुभोकर खुद को लँगड़ा बनाया था .. वरना उसमें कोई कमी न थी..

और उसका एक कारण भी था कि जब उसकी बहन गांधारी को भीष्म पितामह उसके पिता से मांगने गए तो उनके पिता महराज सुबल को लगा कि भीष्म खुद विवाह करना चाहते है। पर उन्होंने कहा कि नही, मैं धृतराष्ट्र के लिए गांधारी को मांगने आया हूँ। अब उनके पिता महराज सुबल और माता सुधर्मा के पास कोई अन्य चारा न था. या तो कुरु वंश से युद्ध करें पर वो युद्ध करने लायक थे नही…।

महराज सुबल हाँ कर चुके थे और शकुनि तब था नही जब तक आया तो उसे बहुत पश्चाताप हुआ कि पिता जी क्या कर दिए।

तो वो भी उनके साथ ही कुरु राज्य आया .. और उसने कसम खायी कि मैं इनका सर्वनाश कर दूँगा और मेरे पैरों में लगा यह खंजर का दर्द हर पल मेरे कसम की याद दिलाता रहेगा ..

सब छल प्रपंचों को लड़ाई थी और इन्ही का परिणाम महाभारत था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »