क्या है ऐसा गढ़कुंडार के किले में जहाँ जाने वाला व्यक्ति कभी वापस लौटकर नहीं आता है

इतिहास में ऐसे बहुत से रहस्य दबे हुए है , जिसके बारे में जान पाना बेहद मुश्किल है। इन्ही में से एक है यूपी के झांसी से करीब 70 किलोमीटर दूर गढ़कुंडार का किला है , जो बेहद रहस्मयी है। कहा जाता है कि इसमें इतना खजाना है कि भारत अमीर हो जाए।

11वीं सदी में बना ये किला 5 मंजिल का है। 3 मंजिल तो ऊपर हैं , जबकि 2 मंजिल जमीन के नीचे है। इस किले का निर्माण किसने करवाया इसकी जानकारी उपलब्ध ही नहीं है। बताते हैं कि ये किला 1500 से 2000 साल पुराना है। आसपास के लोग बताते हैं कि काफी समय पहले यहां पास के ही गांव में एक बरात आई थी। बरात यहां किले में घूमने आई , घूमते-घूमते वे लोग बेसमेंट में चले गए। नीचे जाने पर बरात गायब हो गई। उन 50 – 60 लोगों का आज तक पता नहीं चल सका।

ये किला भूल – भूलैया की तरह है। अगर जानकारी न हो तो इसमें अधिक अंदर जाने पर कोई भी दिशा भूल सकता है। दिन में भी अंधेरा रहने के कारण दिन में भी ये किला डरावना लगता है।

माना जाता है की इस किले में खजाना मौजूद है , इस खजाने को तलाशने के चक्कर में कईयों की जानें भी गई हैं। दो फ्लोर बेसमेंट को बंद कर दिया गया है। खजाने का रहस्य इसी में छिपा हुआ है। ये किला सुरक्षा की दृष्टि से बनवाया गया एक ऐसा बेजोड़ नमूना है , जो अब तक लोगों को भ्रमित कर देता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »