कोरोना वायरस : एमएस धोनी की 1 लाख रुपए की मदद पर भड़के फैंस, बोले पैसा आपको कंजूस बना देता है

भारत के पूर्व कप्तान और दुनिया के सबसे अमीर क्रिकेटरों में शुमार महेंद्र सिंह धोनी ने कोरोना वायरस के कारण देश में लॉक डाउन के दौरान दिहाडी मजदूरों के लिए एक लाख रुपए की मदद की है। लेकिन उन्हें इसके लिए कड़ी आलोचना का सामना करना पड़ रहा है। ट्विटर पर लोग उन्हें खूब ट्रोल कर रहे हैं।

वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के कारण भारत सरकार ने देश में 21 दिनों का लॉक डाउन किया है जो 14 अप्रैल तक चलेगा। लेकिन इस लॉक डाउन के कारण देश में लाखों दिहाडी मजदूर जो रोज कमा कर घर चलाते थे उनका काम बंद हो गया और उन्हें खाने की समस्या हो गई है।

धोनी ने ऐसे लोगों की मदद के लिए एक गैर सरकारी संगठन मुकुल माधव फाउंडेशन चैरिटेबल ट्रस्ट को एक लाख रुपए की मदद की। हालांकि धोनी मदद देने के बावजूद लोगों के निशाने पर आ गए। सोशल मीडिया पर लोगों ने एक लाख रुपए की मामूली राशि देने के लिए उन्हें खूब खरी खोटी सुनाई।

एक ट्विटर यूजर ने कहा, ‘धोनी की नेट आय़ करीब 800 करोड़ रुपए है लेकिन उन्होंने पुणे में 100 परिवारों की मदद के लिए महज एक लाख रुपये ही दिए हैं। ऐसे ही एक अन्य यूजर ने लिखा, ‘धोनी जिनकी आय 800 करोड़ है उन्होंने एक लाख रुपये की भारी मदद की पेशकश की है। किसी ने सही कहा है कि पैसा आपको कंजूस बना देता है। आज यह देखने को मिला।

धोनी के एक फैन ने लिखा कि मैं धोनी का सबसे बड़ा प्रशंसक हूँ लेकिन जब उन्होंने एक लाख रुपये दिए तो मैं पहला आदमी था जिसे यह सुनकर बहुत दुख हुआ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »