कैसे पता करें असली और नकली स्मार्टफोन चार्जर का अंतर क्या है?

आप देख रहे होंगे कि मार्केट में बहुत से नकली चीज आपको देखने को मिलती होगी खाने से लेकर पहनने तक हर चीज नकली आपको देखने को मिलती है स्मार्टफोन की दुनिया में आपको चार्जर असली और नकली देखने को भी मिलते हैं आज मैं आपको कुछ ऐसे पॉइंट बताऊंगा जिससे आप समझ जाएंगे कि चार्जर असली है या नकली

1.. चार्जर का का गर्म होना

अक्सर देखा जाता है कि जो डुप्लीकेट चार्जर होते हैं वह मोबाइल को चार्ज करने के पर बहुत ज्यादा गर्म हो जाते हैं जबकि ओरिजिनल चार्जर में आपको यह देखने को नहीं मिलता है..

2.. चार्जर कंपनी का logo.

जो भी मोबाइल कंपनियां होती है वह अपनी चार्जर में अपने logo जरूर लगाती है उनकी logo की खास बात यह होती है कि उनका logo का रंग हमेशा हल्का दिखता है जबकि दुबलीकेट का logo हमेशा चटक पन उसमें दिखेगा..

3… केबल की लंबाई

ज्यादातर केस में देखा गया है कि चार्जर तो सही रहता है लेकिन उसकी USB केबल फेक होती है। तो USB केबल का पता लगाने के लिए उसकी लम्बाई देख क्योंकि फेक चार्जर की केबल थोड़ी लम्बी होती है इसके अलावा यदि पोर्ट का रंग थोड़ा गहरा है तो यह नकली हो सकता है।

4… चार्जर पिन को चेक करना

जब आप मार्केट से नया चार्जर खरीद रहे हैं तो सबसे पहले उसकी पिन को देखे . ज्यादातर फेक चार्जर में पिन की साइज़ ऊपर से नीचे तक एक जैसी होती है जबकि Original चार्जर में ऊपर की तुलना नीचे की साइड पिन थोड़ी मोटी होती है . जिसको देखकर आप आसानी से पता लगा सकते हैं या चार्जर असली है या नकली है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »