कार की विंडशील्ड तिरछी और बस और ट्रक की सीधी क्यों होती है? जानिए

इस्तेमाल किया जाता है और इन दोनों ही वाहनों की जरूरत एक दूसरे से बिल्कुल अलग होती है और इतना ही नहीं। अगर इनके विंडशील्ड को ध्यान से देखा जाए तो इनको लगाने का तरीका भी बेहद अलग होता है। जहां ट्रक और बस का विंडशील्ड एकदम सीधा होता है। वही कार का विंडशील्ड थोड़ा झुका हुआ टेढ़ा होता है और आपको बता दें कि इसे जानबूझकर किया जाता है क्योंकि एक जैसे दिखने वाले यह विंडशील्ड बेहद अलग होते हैं।  

दोस्तों कार में विंडशील्ड स्पीड की वजह से झुके हुए होते हैं मतलब कार में हवा के दबाव को कम करने के लिए विंडशील्ड झुके हुए लगाए जाते हैं क्योंकि जब कार तेजी से स्पीड में चलती है तो कार पर हवा का भारी दबाव बनता है और खड़े विंडशील्ड होने पर कार पर हवा का भारी दबाव पड़ेगा और कार के इंजन को आगे बढ़ने में ज्यादा दम लगाना पड़ेगा और जिस वजह से कार की स्पीड बनाए रखने के लिए इंजन को भारी मशक्कत करनी पड़ेगी।

और जिस कारण इंधन की खपत भी ज्यादा होगी। दोस्तों विंडशील्ड के झुके हुए होने पर कार से टकराने वाली तेज हवा विंडशील्ड के ऊपर से निकल जाती है और जिससे कार की रफ्तार पर कोई बुरा असर नहीं पड़ता है और यही कारण है कि स्पोर्ट्स और रेसिंग कारों की विंडशील्ड सामान्य कारो से भी ज्यादा झुकी हुई होति है  

वही अगर बात की जाए ट्रक के विंडशील्ड की तो ट्रक के विंडशील्ड कार के मुकाबले ज्यादा बड़े और मोटे होते हैं। अगर ट्रक में झुके हुए विंडशील्ड लगाया जाए तो ड्राइवर को सामने चल रहे वाहन की असली दूरी पता करने में मुश्किल होगी और जिस वजह से एक्सीडेंट भी हो सकता है और विंडशील्ड ऊंचाई पर होने की वजह से रोड पर डाले हुए कंकड़ पत्थर के टकराने की गुंजाइश भी कम हो जाती है। दोस्तों इसी वजह से कार के विंडशील्ड झुके हुए होते हैं और जबकि ट्रक और बस के विंडशील्ड सी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »