कान के अंदर की मैल को साफ करने का सबसे आसान और सुरक्षित तरीका कौन सा है? क्या बड्स का उपयोग सही है?

नेहाजी, कान के मैल को साफ करने का सबसे आसान और सुरक्षित तरीका है, अपने हाथ की सबसे पतली और छोटी उंगली पर पतला सा ,नर्म ,बिना रोयेंदार रूमाल या कपड़ा लपेट कर उसे हल्का गीला कर ले।

पश्चात आईने के सामने खड़े होकर धीरे-धीरे अर्धवर्तुलाकार में घुमाये, जिससे कान के बाहरी तरफ जमा मैल आसानी से निकल जाता है।

यह वही मैल है प्राकृतिक रूप से कान को साफ सुथरा रखने का कार्य करता है और जबड़े के चलने के साथ ही धीरे धीरे मैल को कान के बाहर के तरफ धकेल देता है।

लेकिन आपकी जिज्ञासा तो अंदर के मैल को आसान और सुरक्षित तरीके से निकालने की है।

अंदर जमा मैल आमतौर कान के पर्दे के पास ही जमा होता है और धीरे-धीरे कड़क होने लगता है, जिसको आसानी से साफ करना आसान नहीं होगा।

इस मैल को साफ करने के विशेष उपकरण और दक्षता की आवश्यकता होती है। धातु के बने विशेष स्कूप की सहायता से जमे मैल को निकाला जाता है।ये स्कूप किसी भी मेडिकल स्टोर पर मिल जाते हैं एवं आनलाइन भी उपलब्ध है।

क्या ईयर बड्स का उपयोग सही है? निश्चित ही उपयोग सही है बशर्ते कि सही व्यक्ति द्वारा उचित तरीके से किया जाये। ईयर बड्स का का निर्माण ही कानों की बाहरी सफाई के लिए किया गया है, यदि आप कान के भीतरी भाग में इसका प्रयोग करेंगे तो हो सकता है कि बड्स का काटन भीतर ही रह जाय, और सलाई का नूकीला भाग कान के पर्दे को हानि पहुंचा दे।

यदि कान का मैल सुखा हुआ और सख्त है तो निश्चित ही सुनने में कुछ परेशानी अवश्य होगी,साथ ही कान में दर्द भी होगा।

ऐसी स्थिति में घर पर अपने कान के साथ कोई भी प्रयोग न करें और तुरंत विशेषज्ञ की सलाह एवं सेवाएं लें।

जब तक विशेषज्ञ सेवाएं उपलब्ध न हो दर्द निवारक गोलियां ले एवं कान में ग्लिसरीन अथवा टरपेंटाईन आईल की कुछ बूंदें डालें, ताकि मैल नरम होने लगे, और मैल निकालते समय दर्द कम न हो। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »