कहीं आप भी अपने जूते चप्पल इधर उधर तो नहीं फेक देते, आपके ऊपर आ सकता है बड़ा संकट, जानिए इसके बारे में

जब हम कहीं बाहर से अपने घर आते हैं तो हम अपने जूते और चप्पल सही जगह पर नहीं रखते हैं। इन जूते और चप्पलों को हम किसी भी स्थान पर रख देते हैं। जूते और चप्पलों को सही दिशा और सही स्थान में ना रखने पर आपके घर में सकारात्मक ऊर्जा की कमी होती है और नकारात्मक ऊर्जा की वृद्धि होती है।

आपके इस कृत्य से आपके काम बनते बनते रुक जाते हैं। इसके अलावा आपकी धनसंपदा में भी कमी आती है। आपको अपने जूतों और चप्पलों को हमेशा पश्चिम अथवा दक्षिण दिशा में ही उतारना चाहिए। अपने जूतों को कभी भी पूर्व अथवा उत्तर दिशा में उतारे।

जब आप अपने घर में मिट्टी से सने हुए जूते लेकर प्रवेश करते हैं। फिर होने उत्तर अथवा पूर्व दिशा में उतार देते हैं तो आपके घर की सकारात्मक ऊर्जा भी नकारात्मक ऊर्जा में परिवर्तित हो जाती है। जिसके बाद परिवार के सभी सदस्यों में लड़ाई झगड़े होने लगते हैं। परिवार के छोटे सदस्य अपने बड़े सदस्यों का सम्मान करना भूल जाते हैं। परिवार के लोग छोटी-छोटी बातों में एक दूसरे से लड़ाई झगड़ा करने रखते हैं। इसके अलावा घर के प्रत्येक सदस्य हमेशा तनाव में जीवन को व्यतीत करता है।

घर का कोई ना कोई सदस्य सदैव बीमार रहता है। घर में विभिन्न तरीकों की बीमारियां आने लगती हैं। नकारात्मक ऊर्जा की अधिकता और सकारात्मक ऊर्जा की कमी से आपके घर में माता लक्ष्मी कभी भी निवास नहीं करती है। घर पर रखा पैसा जल्दी जल्दी खर्च होने लगता है। व्यक्ति को अधिक परिश्रम करने के बावजूद भी उसे कभी भी उचित पारिश्रमिक नहीं मिलता है। आपके घर पर सदैव मुसीबतों का पहाड़ टूटा रहता है। जूते और चप्पल सही जगह न उतारने के कारण आपके घर में सदैव दुख और तकलीफों का निवास हो जाता है।जब भी आप अपने ऑफिस अथवा कहीं बाहर से अपने घर आए तो अपने जूतों को घर के दक्षिण अथवा पश्चिम दिशा में रखें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »