एसिडिटी से बचने के लिए करें ये आसन से घरेलू उपाय

आज कल ज्यादातर लोगों को एसिडिटी या पेट में जलन की शिकायत बनी रहती है। इस कारण से शरीर स्वस्थ नहीं रह पाता और किसी काम में भी मन नहीं लग पाता है।लोग इसे साधारण समझकर तरह तरह की दवाई का सेवन कर लेते हैं। लेकिन बार बार ऐसा करने से शरीर में दूसरे रोग नज़र आने लगते हैं।

पेट में जलन या एसिडिटी होने के कई कारण हो सकते हैं। जैसे ज्यादा तला भुना खाना खाने से, शराब आदि का सेवन ज्यादा मात्रा में करने से, खाना खाकर ही सो जाने से, एक जगह बैठकर ज्यादा देर तक काम करने से, शरीर गर्म होने से और शरीर में पानी की कमी होने से आदि। आज हम आपको कुछ ऐसे घरेलू उपचार बतायेगे जिनका प्रयोग करने से एसिडिटी या पेट की जलन दूर हो जाएगी।

1)मुलेठी- एक चम्मच मुलेठी के चूर्ण में एक चम्मच शहद मिलाकर नियमित सेवन करने से एसिडिटी या पेट की जलन शांत हो जाती है।

2) नींबू- इस काम में नींबू भी बहुत कारगर है। एक गिलास गुनगुने गर्म पानी में आधा नींबू का रस , एक चम्मच शहद, एक चम्मच अदरक का रस एक चौथाई जीरा पाउडर मिलाकर रोज सुबह खाली पेट पीने से एसिडिटी या जलन नहीं होगी। सारेे दिन ताजगी का अनुभव होता रहेगा।

3)किशमिश- रात को एक गिलास पानी में 5-6 किशमिश भिगोकर रखें। सुबह उठकर खाली पेट उन किशमिश को खा लें। ऐसा करने से पेट की जलन या एसिडिटी जड़ से समाप्त होती जायेगी।

4) आंवला- ताजा आंवले बाजार से खरीद कर अच्छे से धोकर धूूप में सुखाकर इनका चूर्ण बनाकर एक ऐअर टाइट डिब्बे में रख लें। रोज सुबह खाली पेट एक गिलास गुनगुने पानी में एक चम्मच आंवला चूर्ण डालकर पीने से पाचन तंत्र अच्छा हो जाता है। एसिडिटी की तकलीफ़ जड़ से समाप्त हो जाती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »