एलईडी और सीएफ़एल बल्ब में क्या अंतर है ? जानिए

1. एलईडी (LED) बल्ब सीएफएल की तुलना में कम बिजली खपत करता है. सीएफएल(CFL) से एक वर्ष में करीबन 80% की ऊर्जा लागत होती है.
2. एक एलईडी (LED) बल्ब की लाइफ आमतौर पर 50000 घंटे या अधिक होती है जबकि सीएफएल (CFL) बल्ब की 8000 घंटे तक ही होती है.
3. एलईडी (LED) बल्ब सीएफएल (CFL) की तुलना में महंगा होता है.
4. सीएफएल (CFL) के मुकाबले उनके बीच प्राथमिक अंतर यह है कि एलईडी (LED) बल्ब टिकाऊ और लंबे समय तक चलता है.
5. एलईडी (LED) बल्ब का आकार आमतौर पर सीएफएल (CFL) बल्ब से छोटा होता है.
6. सीएफएल (CFL) बल्ब का ऊपरी भाग ग्लास अर्थात शीशे का बना होता है और अगर यह फूट जाए तो 15 वाट के सीएफएल (CFL) बल्ब का ग्लास बदलवाना पड़ता है. लेकिन एलईडी (LED) बल्ब में ऐसी कोई बात नहीं होती है. इनके सारे कॉम्पोनेन्ट इसके अंदर ही होते हैं और बाहर सिर्फ एक गोल और मजबूत प्लास्टिक ही निकला रहता है जो कि कभी फूटता नहीं है. सबसे अनोखी बात यह कि अगर बहार वाला हिस्सा एलईडी बल्ब का फूट भी जाए, तब भी यह बल्ब काम करता है क्योंकि प्लास्टिक को सिर्फ अन्दर के सामान को ढकने के लिए इस्तेमाल किया जाता है.

7. सीएफएल (CFL) बल्ब में आपको 6 महीने से लेकर 1 साल तक की गारंटी ही मिलती है परन्तु अगर आप एलईडी (LED) बल्ब लेते है तो आपको 2 से 3 साल तक की गारंटी मिलती है. यानी अगर उस समय के अंदर आपका बल्ब खराब होता है तो आपको नया बल्ब मुफ्त में मिल जाएगा.
8. एलईडी (LED) बल्ब जलने पर गरम नहीं होता है, जबकि सीएफएल (CFL) बल्ब जल्दी गरम हो जाता है.
9. एलईडी (LED) बल्ब वजन में सीएफएल से हलके (CFL) होते हैं.
10. भारत सरकार की एलईडी (LED) बल्ब को लेकर एक योजना भी है जिसके अंतर्गत आप बिजली ऑफिस में जाकर कुछ अनिवार्य डाक्यूमेंट्स जमा करके 850 रूपये में उजाला कंपनी से विभिन्न वाट्स के 10 बल्ब ले सकते है जिसमें आपको 2-2 साल की गारंटी मिलती है परन्तु सीएफएल (CFL) के लिए ऐसी कोई योजना नहीं है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »