एक बीवी रहते हुए दूसरी शादी रचाने पर युवक को पड़ा महंगा, जो फिर हुआ

संवाद सूत्र बेलदौर थाना क्षेत्र के सकरोहार पंचायत के एक युवक को दूसरी शादी करना पड़ गया महंगा। मालूम हो कि गैदुहा गांव निवासी के वकील मंडल के पुत्री सरिता कुमारी से शादी 4,4, 2012 में हिंदू रीति रिवाज के साथ दोनों ने अपना दांपत्य जीवन साथियों के साथ निर्वाह करने का वचन लिया था।

लेकिन शादी के कुछ दिन बाद एक बीवी से मन नहीं भरा तो उन्होंने दूसरा शादी दुर्गापुर जिला पूर्णिया गांव से निवासी अमरेंद्र सिंह के पुत्री जुली कुमारी के साथ की। मालूम हो कि खगड़िया जिला के बेलदौर प्रखंड अंतर्गत सकरोहर पंचायत के बोतल सिंह के पुत्र बृजेश कुमार ने दूसरी शादी कर पहली पत्नी को दर-दर भटकने के लिए मजबूर कर दिया और उनके साथ मारपीट एवं अभद्र व्यवहार किया जा रहा था।

इससे तंग आकर इसकी शिकायत माननीय मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी के न्यायालय में दायर की जिसका नंबर 1045/18 मैं दंडाधिकारी से अपने पति के ऊपर अपने छोटे बच्चे के भरण पोषण और दाखिल पी जिसका नंबर 97 ऑब्लिक 18 मुकदमा होने के पश्चात न्यायालय द्वारा लड़की का भरण पोषण का आदेश हुआ।

उसके पश्चात बृजेश सिंह ने अपनी पत्नी को ठीक ढंग से भरण पोषण एवं मारपीट करने लगा। इससे दोनों के बीच झंझट होने लगा था, खाना पीना देना बंद कर दिया। जिससे तंग आकर पुणे सरिता कुमारी ने आरक्षी अधीक्षक महोदय खगरिया को एक आवेदन दी जिससे उचित कार्रवाई हेतु थानाध्यक्ष बेलदौर को नोटिस दिया गया।

थाना अध्यक्ष ने घटना को सही पाए तब थानाध्यक्ष बेलदौर के समक्ष कहा कि मैं सरिता कुमारी को अपनी पत्नी के तरह एवं दोनों बच्चे को शिक्षा एवं अपनी जमीन जायदाद में बराबर का हक दूंगा । मेरे परिवार के द्वारा मेरी पत्नी सरिता कुमारी को कभी कोई कष्ट नहीं पहुंच जाऊंगा। उक्त मामले को लेकर गुरुवार को पंचायत होने वाला था,कि इसी दौरान लड़की के भाई के साथ मारपीट कर, गंभीर रूप से घायल कर दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »