आजकल के मोबाईल फोनों में रिमूवेबल बैट्री क्यों नहीं होती?

●ताकि लोग बैटरी के नीचे कागज़ का टुकड़ा या मसाले की पुड़िया न लगा पाएं। जो हुनर तो हम भारतीयों में ही पाया जाता है।

●ताकि लोग फ़ोन को फ़ोन की तरह ही प्रयोग करें, न कि बटुए की तरह।

●ताकि कोई फ़ोन में कोई अलग से गुप्त सिम या मेमोरी कार्ड न रख सके।

●ताकि बैटरी की चार्जिंग को चाट कर न पता करें, फोन में ही देखें।

●अपनी बैटरी से दूसरे के फ़ोन को न चेक कर पाएं।

●बैक कवर बार-बार खोलकर उसे ढीला न कर लें।

ये सब तो मज़ाक की बातें थीं, अब आते हैं असली कारण पर:

●सबसे पहला कारण पतली डिजाइन के कारण है। इन बिल्ट बैटरी को बैक पैनल की आवश्यकता नहीं होती है, जिसका अर्थ है कि गैजेट के अंदर कम जगह की जरूरत होती है और स्मार्टफोन काफी पतले बनाये जा सकते हैं।

●स्मार्टफ़ोन अधिक स्टाइलिश और आधुनिक दिखते हैं, और बहुत हल्के होते हैं।

●इन-बिल्ट बैटरी देने से वाटरप्रूफ फोन बनाना भी संभव हो गया।

●इसके अलावा, इन-बिल्ट बैटरी आपकी सुरक्षा के लिए बेहतर हैं। मान लीजिए कि किसी ने आपका फोन चुरा लिया है। बैटरी को अंदर से निकालने के साथ और उस रिमूवेबल बैक पैनल के बिना इसे प्राप्त करना मुश्किल है, इससे चोर के लिए ट्रैकिंग फीचर्स को निष्क्रिय करना कठिन हो जाता है। तो, आपके फ़ोन खोजने की संभावना बहुत अधिक है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »