आइक्रीम सबसे पहले किस देश में बनाई गई थी?

आइसक्रीम का इतिहास कुछ इस प्रकार है_
400 ई पू में भारत और चीन के लोगों ने बर्फ और नमक की मदद से चीजों को जमाना सीख लिया था।
कहा जाता है कि चीन के तांग राजवंश में दूध, चावल का आटा और कपूर मिलाकर पकवान बनाए जाते थे। एक बार यात्रा पर जाते हुए उसे खराब होने से बचाने के लिए बर्फ में पैकिंग की गई, जो जम गया। खाने पर यह सबको पसंद आया और संभवत: यहीं से हुआ आइसक्रीम का आविष्कार।
जब किसी को फ्रिज के बारे में पता नहीं था उस समय लोग गर्मी से बचने के लिए पहाड़ों पर जमी नदियों की बर्फ को आइसक्रीम के लिए इस्तेमाल करते थे । 500 ई प़ू एथेंस में बर्फ, शहद और फल वाले आइसक्रीम कोन प्रचलित थे ।

13वीं सदी के अंत में आइसक्रीम की रेसिपी एक व्यापारी मार्को पोलो यूरोप ले गए, जहां यह काफी पसंद की गई।
16वीं सदी में इटली में कैथरीन द मैडिको और फ्रांस में हेनरी द्वितीय आइसक्रीम ले आए।कहा जाता है कि 17वीं सदी के शुरू में आइसक्रीम को केवल शाही व्यंजन बनाने का कोशिश की गई थी।
इसके लिए इंग्लैंड के चार्ल्स प्रथम अपने कुक डिमाकरे को 500 रुपये अधिक सैलरी देते थे ।उनकी मौत के बाद आइसक्रीम एक बिजनेस के तौर पर पूरे यूरोप में मशहूर हो गई ।
जिस आइसक्रीम का स्वाद हम आज ले रहें हैं उसे इजाद करने का श्रेय 19वीं सदी की अमेरिकन शैली शेड को जाता है। पोर्टेबल फ्रीजर के आविष्कार से उन्होंने दूध, क्रीम, चीनी, नट्स, वेफर्स और कई फ्लेवर वाली बीटिंग प्रोसेस से सॉफ्ट आइसक्रीम बनानी शुरू की। यही नहीं संडे आइसक्रीम 19वीं सदी में अमेरिका के यूवान्सटन ने फ्रूट सिरप और सोडा मिलाकर पहली बार बनाई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »